नोटबंदी के खिलाफ धरना देंगे विपक्ष के 200 सांसद, बैठक में बनी साझा रणनीति

नोटबंदी के खिलाफ धरना देंगे विपक्ष के 200 सांसद, बैठक में बनी साझा रणनीति

नई दिल्ली
नोटबंदी पर अब सरकार को विपक्ष एकजुट होकर घेरने का काम कर रहा है। संसद की कार्यवाही से पहले साझा रणनीति बनाने के लिए सोमवार को विपक्षी दलों ने बैठक की। बैठक में तय हुआ कि नोटबंदी के खिलाफ 23 नवंबर (बुधवार) को विपक्षी दलों के सांसद धरना देंगे। साथ ही सदन के अंदर सभी विपक्षी दल मिलकर नोटबंदी की जानकारी कथित तौर पर लीक होने की जांच संयुक्त संसदीय समिति से कराने और चर्चा में प्रधानमंत्री के मौजूद रहने की मांग फिर दोहराएंगे। वहीं तृणमूल कांग्रेस के सांसदों ने सोमवार को संसद के प्रवेश द्वार पर नोटबंदी के खिलाफ प्रदर्शन किया।

बैठक के बाद तृणमूल कांग्रेस के सांसद डेरेक ओब्रायन ने बताया कि विपक्ष के लगभग 200 सांसद संयुक्त रूप से बुधवार को नोटबंदी के खिलाफ गांधी प्रतिमा के सामने धरना देंगे। वहीं लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि कांग्रेस नोटबंदी पर चर्चा प्रधानमंत्री की मौजूदगी में कराए जाने पर जोर देगी।

सूत्रों का कहना है कि तृणमूल कांग्रेस, जेडीयू, बीएसपी, एसपी, एनसीपी और वाम दल सहित सभी विपक्षी दल इस मुद्दे पर एकमत हैं और दोनों सदनों में आक्रामक रुख अपनाएंगे। कांग्रेस ने दोनों सदनों के अपने सभी सांसदों को मौजूद रहने के लिए विप जारी किया गया है।

इसके पहले सोमवार की सुबह राहुल गांधी एक बार फिर एटीएम पहुंच गए। वह दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में एक एटीएम के बाहर पहुंचे। उन्होंने वहां लाइन में लगे लोगों से बातचीत की और उनकी समस्याएं पूछीं। इसके पहले राहुल मुंबई में भी एक एटीएम के बाहर पहुंचे थे।

Courtesy: NBT

Categories: Politics

Related Articles