जियो के खिलाफ टैरिफ वॉर शुरू, एयरटेल और आइडिया के फ्री वॉइस कॉलिंग प्लान्स पेश

जियो के खिलाफ टैरिफ वॉर शुरू, एयरटेल और आइडिया के फ्री वॉइस कॉलिंग प्लान्स पेश

कोलाकाता
देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी एयरटेल के साथ-साथ आइडिया सेल्युलर ने ‘फ्री वॉइस कॉलिंग’ टैरिफ प्लान्स पेश किए। इसके साथ ही देश के करीब 1 अरब प्रीपेड मोबाइल ग्राहकों के लिए जियो के खिलाफ इन कंपनियों का प्राइस वॉर छिड़ गया है। दरअसल, ग्राहकों में पहले से पैठ बनाई इन कंपनियों के सामने चुनौती यह है कि वे अपने ग्राहकों को जियो के मुफ्त कॉल ऑफर के लालच में आकर पाला बदलने से रोकें।

इसी चुनौती से निपटने के लिए एयरटेल और आइडिया ने दो अलग-अलग टैरिफ प्लान्स पेश किए। एयरटेल ने 300 एमबी 4G डेटा के साथ एयरटेल के सभी नंबरों पर अनलिमिटेड कॉल के लिए 145 रुपये तो 1 जीबी 4G डेटा के साथ सभी नेटवर्क पर देशभर में (लोकल और नैशनल) अनलिमिटेड कॉलिंग के लिए 345 रुपये का टैरिफ प्लान पेश किया तो आइडिया ने क्रमशः 148 और 348 रुपये में ठीक यही दोनों प्लान्स पेश किए। दोनों कंपनियों के ग्राहक ये प्लान्स ऐक्टिवेट करवाकर एक बार में 28 दिनों तक अनलिमिटेड कॉल का फायदा उठा सकते हैं।

वहीं, रिलायंस जियो ने अभी अपने ग्राहकों को मुफ्त कॉल और डेटा मुहैया करवा रखा है। वह 1 अप्रैल, 2017 से विभिन्न टैरिफ प्लान्स के मुताबिक चार्ज करना शुरू करेगा। जियो के घोषित प्लान्स के मुताबिक, 300 एमबी डेटा और अनलिमिटेड कॉल के लिए यूजर्स को 149 रुपये देने होंगे। वहीं, 299 रुपये में जियो के ग्राहकों को 2 जीबी डेटा मिलेगा।

गौरतलब है कि देश के कुल मोबाइल नेटवर्क उपभोक्ताओं में 90 प्रतिशत से ज्यादा प्रीपेड कस्टमर्स हैं। इनसे टेलिकॉम कंपनियों को 65-70% रेवेन्यू हासिल होता है। भारती एयरटेल ने अपने बड़े पैक वाले पोस्टपेड ग्राहकों के लिए तो 4G डेटा के साथ फ्री वॉइस कॉलिंग का ऑफर दे रखा था, लेकिन गुरुवार को उसने अपने छोटे तथा मध्यम रिचार्ज वाले लेकिन तादाद में बड़े ग्राहकों को भी अपने पाले में बनाए रखने रखने की बड़ी कवायद की है।

ब्रोकरेज फर्म क्रेडिट सुइस ने अपने ग्राहकों को एक नोट के जरिए कहा कि सितंबर में जियो ऑफर्स की लॉन्चिंग के बाद से ही एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया जैसे पुराने खिलाड़ियों ने समय-समय पर नए-नए टैरिफ प्लान्स लाए, लेकिन उन्हें 1000 रुपये और इससे ज्यादा के बड़े टॉपअप्स पर भी विचार करने की जरूरत है। क्रेडिट सुइस ने कहा, ‘पहली बार ऐसे प्लान्स आए हैं जिससे औसत ग्राहकों को फायदा होगा।’

वहीं, भारती एयरटेल के पूर्व सीईओ संजय कपूर ने कहा कि कंपनी का यह कदम अपेक्षा के मुताबिक ही है। उन्होंने कहा, ‘बड़ी पुरानी कंपनियां सिर्फ कीमत के आधार पर जियो जैसी नई कंपनियों के हाथों अपने ग्राहकों को खोना नहीं चाहतीं।’ कपूर ने कहा कि पुरानी कंपनियों के लिए अपना ग्राहक बचाए रखना बड़ी चुनौती होगी। भारती एयरटेल के पास 26 करोड़ ग्राहक हैं। वहीं, वोडाफोन के 20 करोड़ और आइडिया सेल्युलर के 18 करोड़ ग्राहक हैं। इधर, 50 सितंबर को लॉन्च होने के बाद से रिलायंस जियो ने 5 करोड़ 20 लाख ग्राहक बना लिए। उसका लक्ष्य 10 करोड़ ग्राहकों को अपने साथ जोड़ने का है।

Courtesy: NBT
Categories: Finance