जूनियर हॉकी वर्ल्‍ड कप: भारत ने पेनल्‍टी शूटआउट में ऑस्‍ट्रेलिया को 4-2 से हराया, फाइनल में बनाई जगह

जूनियर हॉकी वर्ल्‍ड कप: भारत ने पेनल्‍टी शूटआउट में ऑस्‍ट्रेलिया को 4-2 से हराया, फाइनल में बनाई जगह

भारत ने जूनियर हॉकी वर्ल्‍ड कप के फाइनल में जगह बना ली है। भारत ने सेमीफाइनल में ऑस्‍ट्रेलिया को पेनल्‍टी शूटआउट में 4-2 से हराया। इससे पहले 70 मिनट के खेल में दोनों टीमें 2-2 से बराबर रहीं थीं। मैच की शुरुआत से ही भारत ने विपक्षी गोलपोस्‍ट पर हमले बोले लेकिन कामयाबी नहीं मिली। इसी बीच ऑस्‍ट्रेलिया के टॉम क्रेग ने 14वें मिनट में पेनल्‍टी कॉर्नर से गोल दाग कर कंगारूओं को 1-0 से बढ़त बना ली। इसके बाद भारत ने भी हमले तेज किए और पेनल्‍टी कॉर्नर हासिल किया लेकिन गोल नहीं हो पाया। 35 मिनट के पहले हाफ की समाप्ति तक ऑस्‍ट्रेलिया के पास 1-0 की बढ़त थी। दूसरे हाफ की शुरुआत से ही भारतीय अग्रिम पंक्ति का रूख बदला हुआ नजर आया। इसका फायदा भी देखने को मिला। 42वें मिनट में गुरजंट सिंह ने मैदानी गोल दागते हुए टीम इंडिया को बराबरी दिला दी। छह मिनट बाद ही हरमनप्रीत सिंह ने दूसरा गोल दाग भारत को बढ़त दिला दी।

क्‍वार्टर फाइनल के मुकाबले में भारत ने स्‍पेन को कड़े मुकाबले में हराया था। मैच के 55वें मिनट तक एक गोल से पिछड़ने के बाद भारत ने बेहतरीन वापसी की थी। खचाखच भरे मेजर ध्यानचंद स्टेडियम पर बेहद रोमांचक मुकाबले में भारतीय टीम ने दूसरे हाफ में गजब का आक्रामक खेल दिखाते हुए जीत दर्ज की। इसके साथ ही भारत ने 11 साल पहले राटरडम में जूनियर हॉकी विश्व कप के कांस्य पदक के मुकाबले में स्पेन से मिली हार का बदला चुकता कर दिया।

मैच में शुरुआती 50 मिनट तक स्पेनिश टीम हावी रही जिसने गेंद पर नियंत्रण के मामले में बाजी मारी और भारतीयों को सर्कल में घुसने के ज्यादा मौके ही नहीं दिये। स्पेन के लिये 22वें मिनट में मार्क सेराहिमा ने गोल दागा। एक गोल से पिछड़ने के बाद भारतीयों ने जबर्दस्त पलटवार किये और दूसरे हाफ में पांच पेनल्टी कार्नर हासिल किये । इनमें से 55वें मिनट में पहले पेनल्टी कॉर्नर पर सिमरनजीत सिंह ने रिबाउंड पर गोल दाबा जबकि 65वें मिनट में हरमनप्रीत सिंह ने ड्रैग फ्लिक पर विजयी गोल दागा। जीत के बाद टीम इंडिया ने बाजीराव मस्तानी के विजय गीत ‘मल्हारी’ की धुन के बीच मैदान का चक्कर लगाया।

Courtesy:jansatta

Categories: Sports