ऑडी कार की खरीद से मिला क्‍लू, IT के 80 अफसरों ने डाली रेड

ऑडी कार की खरीद से मिला क्‍लू, IT के 80 अफसरों ने डाली रेड

लखनऊ/मुरादाबाद. इनकम टैक्‍स (IT) डि‍पार्टमेंट ने गुरुवार सुबह लखनऊ और मुरादाबाद में व्‍यापारि‍क संस्‍थानों पर रेड की। राजधानी में नीलकंठ स्‍वीट्स शॉप के कई ठिकानों पर आईटी के 80 ऑफिसर्स की टीम ने छापेमारी की। यहां से 60 लाख रुपए की नई करेंसी बरामद हुई। इस घटना के बाद हड़कंप मच गया। आगे पढ़िए 72 लाख की ऑडी कार की खरीद से मिला क्‍लू…

ऑडी कार खरीद से संबंधित विभाग को क्‍लू मिला था। जब रेड मारा तो 60 लाख रुपए बरामद हुए। सभी 2000 रुपए के नोट थे।

इसके अलावा विभाग को कई सारी प्रॉपर्टी के कागजात, लॉकर्स और बेनामी संपत्ति होने की बात पता चला है।

गुरुवार सुबह करीब 8 बजे लखनऊ के स्‍वीट शॉप नीलकंठ पर रेड की।

उन्‍हें सूत्रों से जानकारी मि‍ली थी कि‍ नोटबंदी के बाद संस्‍थान ऑनर ने कई जमीनों की खरीद की। साथ ही इनकम टैक्‍स में हेराफेरी की।

सूत्रों ने बताया कि‍ यह रेड संस्‍थान ऑनर की शॉप और घर में एक साथ मारी गई है, वहां कई एंगल से जांच जारी है। रि‍कॉर्ड खंगाले जा रहे हैं।

कुल 9 जगह पर पड़ी रेड, (7 जगह रेड, 2 जगह सर्च)

बताया जाता है कि अलग-अलग बैंक अकाउंट में 11 करोड़ रुपए जमा किया गया था। पुराने नोट से भी विभाग को शक हुआ था।

डिटेल मिलने के बाद पता चला कि लोगों से 30 से 40 फीसदी का कमीशन लेकर उनको बाद में पैसा वापस का वादा किया था। दूसरों का काला धन भी वाइट कर रहे थे।

करोड़ों के ट्रांजेक्‍शन का आरोप

इनकम टैक्स के अधिकारी ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि उन्‍हें सूचना मिली थी कि नीलकंठ के मालिक वि‍ष्‍णु गुप्‍ता ने अपने अकाउंट से करोड़ों रुपए का ट्रांजेक्शन किया है।

इसके साथ उन्होंने करोड़ों रुपए प्रॉपर्टी में भी इन्वेस्ट किया है, लेकिन उन्होंने इसकी जानकारी नहीं दी।

इसी शक के आधार पर गुरुवार को सुबह 8 बजे नीलकंठ के करीब 9 ठिकानों पर छापा मारा गया।

मुरादाबाद में भी रेड

वहीं, मुरादाबाद में भी एक पीतल कारोबारी के कोहि‍नूर क्राफ्ट फर्म के ऑफि‍स पर छापेमारी की है। वहां भारी संख्‍या में पुलिस बल तैनात किया गया है।

सूत्रों से मि‍ली जानकारी के अनुसार पीतल कारोबारी कोहिनूर क्राफ्ट के मालिक इस्तेकार के बेटे की शादी मुंबई में हुई।

करोड़ों की दी थी रि‍सेप्‍शन पार्टी

नोटबंदी के बाद 10 दिसंबर को मुरादाबाद में ही अपनी दूसरी फार्म विजन एक्सपोर्ट फर्म में अपने बेटे की शादी की रिसेप्शन पार्टी दी थी। इसमें करोड़ों रुपए खर्च कि‍ए थे।

इसके बाद से वह इनकम टैक्स की रडार पर था। शहर के कई इलाकों में इन्होंने अपने बेटे की शादी की कई पार्टी कई दिन तक की थी।

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: Regional