यूपी में विकास और नोटबंदी से फिर सरकार बनायेगी सपाः अखिलेश

यूपी में विकास और नोटबंदी से फिर सरकार बनायेगी सपाः अखिलेश

लखनऊ  जनता की अदालत में हाजिरी से पहले विकास की सौगात बांटने निकले मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने केंद्र सरकार, भाजपा और बसपा को कोसा। कहा, लव जेहाद से शुरू सर्जिकल स्ट्राइक नोटबंदी तक पहुंच गई। चुनावी समय है, फिर नई स्ट्राइक हो सकती है। जनता यह सब ध्यान रखकर वोट डाले। इस चुनाव से देश की दिशा तय होगी। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का मानना है कि राज्य में जाति आधारित राजनीति के दिन खत्म हो गये और अब दो डी यूपी में फिर से सपा की सरकार बनायेंगे। जिसमें पहला डेवलपमेंट और दूसरा डीमोनीटाइजेशन जो आगामी विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के पक्ष में काम करेंगे। पीटीआई से बात करते हुये उन्होंने कहा कि पार्टी में कोई झगड़ा नहीं है। हम सब मिलकर सपा की जीत के लिये काम कर रहें जिससे हम फिर से सरकार बना सकें।उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में अपने काम को लेकर चुनाव में उतर रही न कि जाति समीकरणों को लेकर। “पिछले पांच सालों में हमने बहुत काम किया।

‘युवा सोच-युवा जोश से भरपूर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि अच्छे दिन का वादा कर सत्ता में आयी सरकार ने देश को लाइन में खड़ा कर दिया है। ‘इन्होंने ‘लवजेहाद का शिगूफा छेड़ा। फिर सीमा पर सर्जिकल स्ट्राइक का दावा किया, जिसके बाद जवानों की शहादत का रिकार्ड बन गया। नोटबंदी की स्ट्राइक से मोदी ने देश की अर्थव्यवस्था को पीछे कर दिया। चुनाव आ रहा है यह लोग कोई नई सर्जिकल स्ट्राइक करेंगे। जनता को सावधान रहना है और सब सोच समझकर वोट डालना होगा।

यहां से निकले मुख्यमंत्री ने मंडी परिषद के ‘अपना बाजार परिसर में जुटी भीड़ को संबोधित करते हुए कमोबेश यही बात दोहराई। बोले, ‘सुना है विधानसभा चुनाव को देखते हुए उप्र के लिए विशेष रूप से नई करेंसी भेजी जा रही है, मगर पटरी से उतर गई अर्थव्यवस्था कैसे दुरुस्त हो, इसकी योजना उनके पास नहीं है। मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार पर किसानों की अनदेखी का इल्जाम लगाते हुए कहा कि वह लोहिया आवास के लिए राज्य सरकार साढ़े तीन लाख दे रही है। केंद्र सरकार ग्रामीण आवासों के लिए डेढ़ लाख देती है।

हाथी खड़े, बसपा विकास विरोधी
मुख्यमंत्री ने कहा कि बसपा सरकार में बने हाथी ज्यों के त्यों खड़े हैं। विकास का सारा धन इन्हीं हाथियों व स्मारकों में लगा दिया गया। उस सरकार में विकास विरोधी कार्य हुआ।

किसान नियंत्रित करेगा महंगाई
मुख्यमंत्री ने कहा शहरों की महंगाई पर ग्र्रामीण अर्थ व्यवस्था से नियंत्रण किया जा सकता है मगर नोटबंदी से किसान परेशान हो गया है। राज्य सरकार अपने संसाधनों से उसकी मदद कर रही है। उनकी उपज खरीदने के लिए मंडियां बनाई जा रही है।

निवेशकों के लिए नियम शिथिल होंगे
मुख्यमंत्री ने बाबा रामदेव के कारोबार की तारीफ करते हुए कहा कि उन्होंने बहुराष्ट्रीय कंपनियों को पीछे छोड़ दिया है। प्रदेश के लोगों को रोजगार व सस्ते उत्पाद उपलब्ध कराने की मंशा से उन्हें नोएडा में जमीन उपलब्ध करायी है जहां वह बायोटेक पार्क भी बनाएंगे। अगर दूसरी कंपनियां भी निवेश करना चाहेंगी सरकार नियम शिथिल कर उन्हें जमीन व संसाधन उपलब्ध करायेगी।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Politics

Related Articles