कांग्रेस में शामिल होंगे क्रिकेटर हरभजन सिंह, जालंधर से लड़ेंगे चुनाव!

कांग्रेस में शामिल होंगे क्रिकेटर हरभजन सिंह, जालंधर से लड़ेंगे चुनाव!

चंडीगढ़। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व स्टार स्पिनर टर्बिनेटर हरभजन सिंह कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं। बताया जाता है कि हरभजन आज या एक-दाे दिन मेें कांग्रेस में शामिल होंगे। यह भी चर्चा है कि वह नवजोत सिंह सिद्धू के साथ नई दिल्ली में कांग्रेस में शामिल होंगे। आज उनकी कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की संभावना है। भज्जी के जालंधर से विधानसभा चुनाव लड़ने की संभावना है। इसे कांग्रेसका पंजाब में मास्टर स्ट्रोक माना जा रहा है।

नवजोत सिंह सिद्धू के साथ एक-दो दिन में हो सकते हैं कांग्रेस में शामिल

बताया जाता है कि हरभजन की पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से बातचीत हो गई है। उनकी पार्टी के प्रदेश नेताओं के साथ भी दिल्ली में मुलाकात होने की बात भी सामने आ रही है। नवजोत सिंह सिद्धू की कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से दो दिन पहले हुई मुलाकात के बाद अचानक यह बात सामने आने से पंजाब की राजनीति गर्मा गई है।

राजनीतिक क्षेत्रों में चर्चा है कि हरभजन को कांग्रेस में शामिल कराने की कोश्ािश राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर की पहल पर शुरू हुई। पूरे मामले में प्रशांत किशाेर की भूमिका को अहम माना जा रहा है। बताया जाता है कि हरभजन सिंह को साधने में नवजोत सिंह सिद्धू भी इस्तेमाल किया गया है।

कांग्रेस को भरोसा है कि भज्जी के आने से पार्टी युवाआें काे अपने साथ आसानी से जोड़ सकेगी। सिद्धू और हरभजन के आने के बाद कांग्रेस के चुनाव अभियान में नया जाेश भी आने की उम्मीद है। पार्टी के प्रदेश प्रधान कैप्टन अमरिंदर सिंह अभी नई दिल्ली में ही हैं और हरभजन से उनकी मुलाकात भी होने की उम्मीद है। बताया जाता है कि पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस की दूसरी सूची के जारी हाेने में इसी कारण देरी हो रही है। दोनों पूर्व क्रिकेटरों के कांग्रेस में शामिल हाेने के बाद पार्टी अपने बाकि उम्मीदवारों की घोषणा करेगी।

चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव के नतीजों से चेती भाजपा

चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस ने पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए नए सिरे से रणनीति बनानी शुरू कर दी है। हरभजन को कांग्रेस में लाना इसी रणनीति का हिस्सा समझा जा रहा है। नोटबंदी के कारण बने माहौल को बदलने और युवाओं को कांग्रेस से जोड़ने के लिए पार्टी ने रणनीति बनाई है। पार्टी चंडीगढ़ नगर निगम चुनाव के नतीजों के बाद विधानसभा चुनाव के लिए अपनी तैयारी में कोई काेर-कसर नहीं रखना चाहती है।

Courtesy: Jagran.com

Categories: India

Related Articles