3500 करोड़ का है हमारा राष्ट्रपति भवन, US के व्हाइट हाउस से 10 गुना ज्यादा कीमत

3500 करोड़ का है हमारा राष्ट्रपति भवन, US के व्हाइट हाउस से 10 गुना ज्यादा कीमत

नई दिल्ली. अमेरिका भले दुनिया की सबसे बड़ी इकोनॉमी हो, वहां के प्रेसिडेंट दुनिया के सबसे ताकतवर शख्स हों, लेकिन उनके व्हाइट हाउस की कीमत दूसरे देशों के मुकाबले बहुत कम है। दुनिया की 20 सबसे बड़ी इकोनॉमी, जी-20 में चीन के राष्ट्रपति का सरकारी निवास सबसे महंगा है। इसकी कीमत 2.63 लाख करोड़ रुपए आंकी गई है। वहीं इस लिस्ट में भारत के राष्ट्रपति भवन को 7वें नंबर पर जगह मिली है। 10वें नंबर पर पहुंचा व्हाइट हाउस…

– इस लिस्ट में 3500 करोड़ के भारत के राष्ट्रपति भवन को 7वें नंबर पर रखा गया है। जिसका एरिया 2 लाख वर्ग मीटर है।
– चीन के राष्ट्रपति भवन का एरिया सबसे ज्यादा है। यह 34 लाख स्क्वेयर मीटर से ज्यादा है।
– G-20 ग्रुप के टॉप 10 देशों में अमेरिका का व्हाइट हाउस एरिया और कीमत दोनों लिहाज से 10वें नंबर पर है।

– इसके अलावा दक्षिण कोरिया दूसरे, रूस तीसरे, इटली का पीएम हाउस चौथे और जापान का पीएम हाउस पांचवे नंबर पर रहा।

जीडीपी की तुलना में सबसे महंगा रूसी राष्ट्रपति का निवास

– इसमें एक और इंटरेस्टिंग फैक्ट ये है कि चीन को छोड़कर बाकी 8 देशों की जीडीपी से अकेले अमेरिका की जीडीपी ज्यादा है।

– जीडीपी की तुलना में देखें तो सबसे महंगा रूसी राष्ट्रपति का निवास ‘द क्रेमलिन’ है। इसकी कीमत रूस की जीडीपी का करीब 1% है।
– व्हाइट हाउस की कीमत अमेरिका की जीडीपी का सिर्फ 0.0002% है।
– प्रॉपर्टी वेबसाइट ‘हैच्ड’ ने एरिया और उस शहर में रियल एस्टेट की एवरेज प्राइज के बेस पर यह कैलकुलेशन किया है।

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: India

Related Articles