5 दिसंबर के बाद बसपा के खाते में 104 करोड़ और मायावती के भाई के खाते में 1.43 करोड़ हुए जमा

5 दिसंबर के बाद बसपा के खाते में 104 करोड़ और मायावती के भाई के खाते में 1.43 करोड़ हुए जमा

नई दिल्ली: नोटबंदी के बाद बहुजन समाज पार्टी के खाते में 104 करोड़ रुपये हुए है. यह रकम दिल्ली के एक बैंक में जमा हुए हैं जिसमें पार्टी का खाता है. इस बैंक की शाखा में बसपा सुप्रीमो मायावती के भाई आनंद कुमार का भी खाता है और उनके खाते में भी 1.43 करोड़ रुपये की रकम जमा होने की बात सामने आई है.

जानकारी के अनुसार ईडी की टीम रूटीन जांच के लिए पहुंची बैंक की शाखा में पहुंची थी तब उसे खाते देखने पर यह जानकारी मिली. जांच से जुड़े अधिकारियों का कहना है कि ईडी की टीम नोटबंदी के बाद खातों में जमा हुए रकम की रूटीन जांच के लिए करोलबाग पहुंची थी. जांच में पाया गया कि यूनियन बैंक ऑफ इंडिया की ब्रांच में दो अलग-अलग खातों में बड़ी रकम जमा की गई है.

बैंक से जानकारी मांगने पर पता चला कि बसपा के खातों में 102 करोड़ 1000 रुपये के पुराने नोटों की शक्ल में जमा हुए. शेष रकम 500 रुपये के पुराने नोटों की शक्ल में जमा की गई है.

यह रकम 5 दिसंबर के बाद से इन खातों में जमा की गई है. जानकारी यह भी मिली है कि हर दूसरे दिन बसपा के खाते में 15-17 करोड़ रुपये जमा हो रहे थे.

इसी ब्रांच में मायावती के भाई आनंद कुमार का भी खाता पाया गया. उनके खाते में 1.43 करोड़ रुपये जमा होने का खुलासा हुआ. इनमें से 18.98 लाख रुपये पुराने नोटों की शक्ल में जमा किए जाने की सूचना है.

उल्लेखनीय है कि मायावती और आनंद के खिलाफ पहले से जांच चल रही है. मामले के सामने आने के बाद ईडी ने यूनियन बैंक से इन दोनों खातों की पूरी जानकारी मांगी है. आयकर विभाग को भी इस मामले के बारे में बताया गया है. बता दें कि आनंद कुमार को ईडी ने पहले ही नोटिस जारी कर दिया है.

Courtesy:NDTV

Categories: Politics