गोल्ड जीतकर भी सिंधु से काफी गरीब रहीं कैरोलिना, मिले थे केवल इतने रुपए

गोल्ड जीतकर भी सिंधु से काफी गरीब रहीं कैरोलिना, मिले थे केवल इतने रुपए

स्पोर्ट्स डेस्क. रियो ओलिंपिक 2016 के वुमन्स बैडमिंटन के फाइनल में भारत की पीवी सिंधु को हराने वाली स्पेन की कैरोलिना मारिन इन दिनों भारत में हैं। वे प्रो-बैडमिंटन लीग खेलने के लिए यहां आई हुई हैं। हाल ही में मारिन ने खुलासा करते हुए बताया है कि रियो में गोल्ड मेडल जीतने के बाद ही उन्हें ज्यादा कुछ नहीं मिला। जबकि उनसे हारने वाली सिंधु पर भारत में इनामों की बारिश हो गई थी। गोल्ड जीतकर भी सिंधु के मुकाबले गरीब रहीं मारिन
– ओलिंपिक में सिल्वर मेडल जीतने पर भारत की पीवी सिंधु पर इनामों की बारिश हो गई थी।
– सिंधु को नकद इनाम के अलावा, लग्जरी कार, जमीन और कई एंडोर्समेंट ऑफर मिले।
– वहीं रियो में गोल्ड मेडल जीतने वाली स्पेन की कैरोलिना मारिन की लाइफ भी इस इवेंट के बाद बदल गई लेकिन उतनी नहीं जितना सिंधु की।
– मारिन की बात करें तो 23 साल की इस स्पेनिश प्लेयर को गोल्ड जीतने के बाद केवल 94000 यूरो (करीब 68 लाख रुपए) ही मिले।
– कैरोलिना को सिंधु का करीब 10 प्रतिशत ही इनाम मिला। जबकि उन्होंने गोल्ड मेडल जीता था।
– सिंधु के मेडल जीतने के बाद उनके कोच पी. गोपीचंद को भी बहुत कुछ इनाम में मिला था।
– वहीं जब इस बारे में मारिन के कोच रिवाज से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि उन्हें कोई इनाम नहीं मिला।

मारिन बोलींकाश मैं इंडियन होती

– मारिन का कहना है कि, ‘स्पेन में चीजें बिल्कुल अलग हैं, गोल्ड जीतने के बाद मुझे कोई कार, मकान और जमीन नहीं मिली, मुझे केवल सरकार से इनाम मिला। लेकिन फिर भी जो मिला मैं उससे संतुष्ट हूं।’
– मारिन इस बात को मानती हैं कि उन्हें अपने देश से ज्यादा अटेंशन भारत में मिल रहा है।
– उनके मुताबिक ‘यहां आकर मुझे ढेर सारे फैन्स मिले। लोग मुझे जानने लगे हैं, वे एयरपोर्ट और होटल पर मेरा इंतजार करते हैं और मुझसे सेल्फी और ऑटोग्राफ मांगते हैं।’
– मारिन का कहना है कि स्पेन में ऐसी चीजें बिल्कुल नहीं हो सकतीं, वहां यहां से सबकुछ अलग है। मैंने गोल्ड मेडल जीता और सिंधु ने सिल्वर, लेकिन मुझे ये बात जानकर हैरानी हुई कि उन्हें इनाम में इतना सबकुछ मिला।’
– इसके बाद मारिन मुस्कुराते हुए कहती हैं कि कभी-कभी मुझे लगता है कि मुझे भी इंडियन होना चाहिए था।

Courtesy: Bhaskar

Categories: Sports