UP Election 2017: SP-कांग्रेस के बीच गठबंधन का हो सकता है एलान

लखनऊ/ नई दिल्ली (ब्यूरो)। यूपी विधानसभा चुनाव 2017 के लिए कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के बीच गठबंधन का एलान आज हो सकता है। मुलायम सिंह यादव को अपने और पार्टी का चेहरा बताने वाले प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और कांग्रेस के बीच इस गठबंधन को लेकर स्थिति अब लगभग साफ हो चुकी हैै। इस गठबंधन में राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) भी शामिल होगा।

मुलायम खेमे से भी अखिलेश की तरफ आ सकते हैं नेता

कहा जाता है कि राजनीति में संभावनाएं खत्म नहीं होतीं, लड़ाई पिता-पुत्र के बीच होने पर हर पल एकता की आस भी रहती है। पिछले साल 12 सितंबर से पिता-पुत्र के बीच शुरू हुई लड़ाई का परिणाम चार माह बाद अखिलेश यादव के सर्वमान्य होने के रूप में सामने आया। अखिलेश ने कहा ‘नेताजी (मुलायम) का चेहरा व मेरा काम सपा की पहचान है।’ इसके बाद मुलायम खेमे से भी अखिलेश के साथ रहने के संकेत मिले हैं।

यूपी विधानसभा चुनाव के लिए सपा-कांग्रेस-रालोद गठबंधन

उधर सपा-कांग्रेस-रालोद व अन्य दलों के महागठबंधन का ऐलान बुधवार दोपहर होने की संभावना है। उधर, सूत्रों का कहना है कि मुलायम ने अखिलेश को 38 लोगों की एक सूची सौंपते हुए उन्हें टिकट देने की मांग की है। फिर साथ बैठे पिता-पुत्र व चाचा मंगलवार की सुबह से दोपहर तक मुलायम, अखिलेश, शिवपाल की तिकड़ी की दो राउंड में बातचीत हुई। इसमें मुलायम ने सबको मिल-जुलकर चुनाव लड़ने का संदेश दिया। मुख्यमंत्री से कहा कि वह शिवपाल को साथ लेकर चलें। सूत्रों का कहना है कि परिवार के तीनों सदस्यों के बीच विस चुनाव में महागठबंधन पर चर्चा हुई। इस पर फैसले का अधिकार अखिलेश पर छोड़ा गया।

पिता को अखिलेश ने दिया पूरा सम्मान

-अखिलेश सिर्फ तीन माह के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष रहेंगे।
-चुनाव में जीत के बाद मुलायम को फिर से राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाएंगे।
-नेताजी से कोई विवाद नहीं है। हम उन्हें साथ लेकर चलेंगे।
– ये रिश्ता अटूट है। उनका आशीर्वाद मेरे साथ है।
– पिताजी और मेरी सूची के 90 प्रतिशत उम्मीदवार एक हैं।

मुलायम ने इनके लिए मांगा टिकट

नारद राय, ओम प्रकाश सिंह, अंबिका चौधरी, शादाब फातिमा, शिवपाल यादव, गायत्री प्रजापति, विजय यादव (देवरिया), अनुग्रह नारायण सिंह उर्फ खोखा सिंह (रद्रपुर), नाशी खान, रामदर्शन यादव (आजमगढ़), विश्वनाथ सिंह (फाजिलनगर), राजकिशोर सिंह, शारदा प्रताप शुक्ला, अपर्णा यादव, सोबरन सिंह यादव, मोहम्मद रेहान, कमर हसन (बुढ़ाना), रामवीर यादव (जसराना), आशीष यादव (एटा), शकुंतला निषाद (तिंदवारी), संदीप शुक्ला सुलतानपुर (सदर)


अखिलेश के नेतृत्व में गठबंधनः गुलाम नबी

कांग्रेस के उप्र प्रभारी गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि सपा और कांग्रेस गठबंधन कर सकती हैं। यह गठबंधन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के नेतृत्व में होगा। रामगोपाल ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की कैविएट सपा व साइकिल पर जीत के बाद भी अखिलेश खेमा अब भी पूरी तरह आश्वस्त नहीं है। इसीलिए सपा महासचिव प्रो.रामगोपाल यादव ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में कैविएट दायर कर दी। इससे कोर्ट दोनों पक्षों को सुने बिना एकतरफा आदेश जारी नहीं कर सकेगी।

जब भी होगा डंके की चोट जाऊंगा भाजपा में : अमर

मुलायम के करीबी अमर सिंह ने कहा है कि जीत या हार से तय नहीं होता कि कौन सही और कौन गलत है। नेताजी उन्हें खलनायक नहीं मानते। परिवार में झगड़े की वजह वे नहीं हैं बल्कि कुछ और था। अब सामने वाला चाहे उन्हें खलनायक कहे या शकुनि। मुझे जिस दिन भाजपा में जाना होगा, मैं डंके की चोट पे कहूंगा और खुले आम जाऊंगा।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Politics

Related Articles