Australian Open: मिक्‍सड डबल्‍स में देश को जश्‍न मनाने का मौका दे सकती हैं सानिया मिर्जा, क्रोएशिया के डोडिग के साथ फाइनल में पहुंचीं

Australian Open: मिक्‍सड डबल्‍स में देश को जश्‍न मनाने का मौका दे सकती हैं सानिया मिर्जा, क्रोएशिया के डोडिग के साथ फाइनल में पहुंचीं

मेलबर्न: साल के पहले ग्रैंडस्‍लैम ऑस्‍ट्रेलियन ओपन (Australian Open) में भारत के लिए अच्‍छी खबर है. भारत की महिला टेनिस स्‍टार सानिया मिर्जा (Sania Mirza) ने टूर्नामेंट के मिक्‍सड डबल्‍स वर्ग के फाइनल में स्‍थान बना लिया है. इस तरह, क्रोएशिया के इवान डोडिग के साथ के साथ जोड़ी बनाकर उतरीं सानिया अब चैंपियन बनने (फाइनल में अगर जीतीं तो) से महज एक मैच दूर हैं. सानिया मिर्जा ने यहां डोडिग के साथ मिलकर ऑस्‍ट्रेलिया की समंथा स्टोसुर और सैम ग्रोथ की जोड़ी को हराकर अपने सातवें ग्रैंडस्लैम खिताब की ओर कदम बढ़ाए.

भारत और क्रोएशिया की दूसरी वरीयता प्राप्‍त जोड़ी ने एक घंटे और 18 मिनट चले सेमीफाइनल में 6-4, 2-6, 10-5 से जीत दर्ज की. सानिया अब तक तीन मिक्‍सड डबल्‍स ग्रैंडस्लैम जीत चुकी हैं. उन्होंने पिछली बार ब्राजील के ब्रूनो सोरेस के साथ मिलकर 2014 में अमेरिकी ओपन का खिताब जीता था. पिछले साल सानिया के पास डोडिग के साथ ग्रैंडस्लैम जीतने का मौका था लेकिन इस जोड़ी को फ्रेंच ओपन के फाइनल में हमवतन भारतीय लिएंडर पेस और मार्टिना हिंगिस की जोड़ी के खिलाफ शिकस्त का सामना करना पड़ा था.
पहले सेट में दोनों जोड़ियों ने एक-दूसरे की सर्विस तोड़ी. इस दौरान सिर्फ सानिया ने सर्विस नहीं गंवाई. इसके विपरीत, दूसरे सेट में सानिया ने दो बार अपनी सर्विस गंवाई जिसके बाद मुकाबला टाईब्रेकर में खिंचा. टाईब्रेक में जब स्कोर 3-3 से बराबर था तब दूसरी वरीय जोड़ी ने लगातार पांच अंक के साथ अपनी स्थिति मजबूत की. ऑस्ट्रेलियाई जोड़ी में ग्रोथ को विशेष तौर पर अपनी पहली सर्विस को लेकर जूझना पड़ा और उन्हें इसका खामियाजा भुगतना पड़ा.

Courtesy: NDTV

Categories: Sports

Related Articles