एक मंच पर गठबंधन, अखिलेश बोले- ‘हाथ के साथ से बढ़ेगी साइकिल की रफ्तार’

नई दिल्ली: गठबंधन के ऐलान के बाद आज कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और यूपी के सीएम अखिलेश यादव एक मंच पर नजर आए. राहुल गांधी ने सपा और कांग्रेस के गठबंधन की तुलना गंगा और यमुना के संगम से की. राहुल गांधी ने कहा, ”कांग्रेस और सपा का गठबंधन गंगा और यमुना की तरह है. इससे विकास की सरस्वती निकलेगी.”

अखिलेश यादव और राहुल गांधी ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला. राहुल गांधी ने कहा, ”राजनीति में नीयत देखी जाती है, बीजेपी और आरएसएस की नियत अच्छी नहीं है. अखिलेश की नियत अच्छी है, कोई ये नहीं कह सकता हकि अखिलेश ने यूपी में काम नहीं किया.”

पीएम मोदी ने पर हमला करते हुए राहुल ने कहा, ”मोदी जी कहते हैं मैं भ्रष्टाचार के खिलाफ हूं, लेकिन उसकी नीयत नहीं है. पंजाब में सुखबीर बादल के साथ खड़े हो गए. मोदी जी को अपना विरोधाभास नहीं दिखता है.” राहुल गांधी ने कहा, “हम बीजेपी को ये दिखाएंगे कि आप इस देश के लोगों को बांट नहीं सकते, उन्हें सता नहीं सकते. हम यूपी के लोगों की भावनाएं बीजेपी को दिखाएंगे.”

गठबंधन के बारे में राहुल गांधी ने कहा, ”मोदी जी के शब्दों में ये ट्रिपल पी है. इस गठबंधन से तरक्की होगी, भाईचारा बढ़ेगा और यूपी विकास की राह पर आगे बढ़ेगा.”

राहुल गांधी ने अखिलेश यादव की तारफों के जमकर पुल बांधे. राहुल ने कहा, ”अखिलेश का इरादा सही था, कोशिश पूरी थी. हम उस इरादे को सपोर्ट करना चाहते हैं. ये यूपी को बदलना चाहते थे. कांग्रेस उस लक्ष्य के लिए सपोर्ट करना चाहती है.”

राहुल गांधी के साथ अखिलेश यादव ने भी पीएम मोदी पर निशाना साधा. अखिलेश ने कहा, ”ये गठबंधन उन लोगों के लिए जवाब है जिन्होंने देश की जनता को लाइन में लगाया. हमने सर्दी, गर्मी, बरसात सभी मौसम देखे लेकिन अभी तक ‘अच्छे दिन नहीं देखने को नहीं मिले.” अखिलेश ने कहा, ”चुनाव में किसान, गरीब, युवा, रोजगार हमारा मुद्दा हैं, ये पहला चुनाव है जिसमें जनता ने मन बना लिया है कि किसे वोट देना है.”

गठबंधन के नारे पर अखिलेश यादव ने कहा, ”यूपी को ये साथ पसंद हैं और काम बोलता है नारा हो. ये दोनों नारे मिल जाएं तो सोचिए क्या होगा. हाथ के साथ साइकिल हो, साइकिल के साथ हाथ तो सोचिए रफ्तार कितनी होगी.”

प्रियंका गांधी के प्रचार में शामिल होने के जवाब में राहुल गांधी ने कहा, ”प्रियंका मेरी बहन हैं और वो हमेशा मेरे साथ रहीं, मेरी मदद की. वो कैम्पेन में शामिल नहीं होंगी, ये वो तय करेंगी.”

मायावती पर राहुल गांधी ने कहा, ”मायावती जी और कांशीराम जी की मैं पर्सनली रिस्पेक्ट करता हूं. मायावती जी में और बीजेपी में बहुत बड़ा फर्क है. बीजेपी क्रोध और गुस्सा फैलाती है. उनकी विचारधारा से हिंदुस्तान को खतरा है. मायावती जी की विचारधारा से हिंदुस्तान को कोई खतरा नहीं.”

Courtesy:ABP
Categories: Politics