उत्तर प्रदेश चुनाव 2017: सुलतानपुर में भाजपाइयों पर हमला, दो लहूलुहान

सुलतानपुर  प्रचार के दौरान भाजपा प्रत्याशी के समर्थकों पर अराजकतत्वों ने हमला बोल दिया जिसमें दो समर्थक लहूलुहान हो गए। सूचना पर काफी देर बाद पहुंची पुलिस मामले की पड़ताल में जुटी है। देर रात तक मुकदमा भी नहीं दर्ज हो सका था। भाजपा प्रत्याशी सूर्यभान सिंह अपने समर्थकों के साथ धनपतगंज कस्बे में जनसंपर्क कर रहे थे। इसी बीच पार्टी प्रत्याशी के खिलाफ कुछ अराजकतत्वों ने नारेबाजी शुरू कर दी। आरोप है कि अतरसुमा मोड़ पर पहुंचते ही प्रत्याशी के समर्थकों पर हमला कर दिया गया। मारपीट में अतरसुमा निवासी मनेंद्र गुप्ता तथा संतोष मिश्र को चोटें आई। प्रत्याशी सूर्यभान ङ्क्षसह ने घटना की सूचना पुलिस को दे, लेकिन काफी देर बाद पुलिस मौके पर पहुंच सकी। इधर कुछ लोगों ने सीओ बल्दीराय तौकीर अहमद को भी सूचना दी तब उन्होंने भी घटनास्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने कूरेभार थाना प्रभारी को प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया।
प्रतापगढ़ में भिड़े भाजपा व कांग्र्रेस कार्यकर्ता
प्रतापगढ़ : रामपुर खास विधानसभा क्षेत्र में बुधवार को कांग्रेस व भाजपा कार्यकर्ताओं में दो बार हुई झड़प में करीब डेढ़ दर्जन लोग घायल हो गए। भाजपा प्रत्याशी नागेश प्रताप ङ्क्षसह ने दूसरे पक्ष पर पीटे जाने का आरोप लगाया है तो कांग्रेस की ओर से नागेश व उनके समर्थकों पर हमला व छिनैती का आरोप लगाया गया है। भाजपाइयों ने जाम लगा कर विरोध जताया तो कांग्रेस-सपा की ओर से थाने का घेराव किया गया। देर रात दोनों पक्षों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया है।

भाजपा प्रत्याशी के समर्थकों पर हमला
कुशीनगर: तमकुही विधानसभा क्षेत्र के तरया लच्छीराम गांव में बुधवार की शाम भाजपा प्रत्याशी जगदीश मिश्र उर्फ बाल्टी बाबा के लिए वोट मांगने पहुंचीं उनकी पुत्री डॉ.संध्या तथा उनके समर्थकों पर हमला बोल दिया गया। भाजपा से बगावत कर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव मैदान में उतरे पूर्व विधायक नंद किशोर मिश्र के इस गांव हुए हमले में सात लोग घायल हो गए हैं। दो नामजद तथा 20 अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। इस मामले में पूर्व विधायक के चचेरे भाई बृजकिशोर मिश्र को गिरफ्तार कर लिया गया है।
भाजपा प्रत्याशी से धक्कामुक्की
झांसी : भाजपा के बबीना प्रत्याशी राजीव सिंह पारीछा ने जिस थानाध्यक्ष की शिकायत निर्वाचन आयोग से की थी, बुधवार को उन्ही से उनका विवाद हो गया। जनसंपर्क के दौरान पुलिस व भाजपा प्रत्याशी आमने-सामने आ गए। पुलिस ने धक्कामुक्की की, जिससे गुस्साए भाजपाइयों ने पुलिस का घेराव किया। भाजपा प्रत्याशी का आरोप है कि चिरगांव थानाध्यक्ष ने जनसंपर्क रोका और मारने की धमकी दी, जबकि पुलिस ने राजीव सिंह पारीछा पर सरकारी कार्य में बाधा डालने का मुकदमा पंजीकृत कर लिया। –

Courtesy: Jagran.com

Categories: Politics

Related Articles