Live IPL Auction 2017 : बेन स्टोक्स 14.50 करोड़, टाइमल मिल्स 12 करोड़ में बिके, पिछले साल के सबसे महंगे भारतीय पवन नेगी को मिले महज एक करोड़ रुपये

Live IPL Auction 2017 : बेन स्टोक्स 14.50 करोड़, टाइमल मिल्स 12 करोड़ में बिके, पिछले साल के सबसे महंगे भारतीय पवन नेगी को मिले महज एक करोड़ रुपये

बेंगलुरू: IPL के 10वें सीजन के लिए खिलाड़ियों की नीलामी प्रक्रिया बेंगलुरू में शुरू हो गई है. इसमें 352 खिलाड़ियों पर बोली लग रही है. पिछले साल के सबसे महंगे भारतीय खिलाड़ी रहे ऑलराउंडर पवन नेगी को इस बार महज एक करोड़ में खरीदा गया है. जैसा कि टीम इंडिया बाएं हाथ के बल्लेबाज युवराज सिंह ने इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के दौरान कहा था कि आईपीएल में बेन स्टोक्स जमकर कमाई करेंगे. बोली के दौरान कुछ ऐसा ही हुआ. इस ऑलराउंडर को राइजिंग पुणे सुपरजायन्ट्स ने 14.50 करोड़ में खरीद लिया. दूसरी सबसे बड़ी कीमत टाइमल मिल्स पर लगी, जिन्हें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू ने 12 करोड़ में हासिल किया. इरफान पठान, मार्टिन गप्टिल और जेसन रॉय को किसी ने नहीं खरीदा. तीसरे सेट की बोली जारी है, जो स्पिनरों पर है…

तीसरे सेट में तेज गेंदबाजों में मिल्स ने मारी बाजी, ईशांत शर्मा नहीं बिके
तीसरे सेट में निकोलस पूरन को 30 लाख मिले. उन्हें मुंबई इंडियन्स ने खरीदा. तेज गेंदबाजों में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज टाइमल मिल्स को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू ने 12 करोड़, तो दक्षिण अफ्रीका के उभरते कागिसो रबाडा पर दिल्ली डेयरडेविल्स ने 5 करोड़ का दांव लगाया. न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट को कोलकाता नाइटराइडर्स ने और ऑस्ट्रेलिया के पैट कमिन्स को दिल्ली डेयरडेविल्स ने 5-5 करोड़ में खरीदा. ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिचेल जॉनसन पर मुंबई इंडियन्स ने बेस प्राइस 2 करोड़ में खरीदा. तेज गेंदबाजों के बाद स्पिनरों पर बोली लगी.

टीम इंडिया के ईशांत शर्मा, काइल एबॉट, जॉनसन चार्ल्स, बेन डंक, जॉनी बेयरस्टॉ, दिनेश चंडीमल और आंद्र फ्लेचर को किसी ने नहीं लिया. तेज गेंदबाजों में पहली बोली नैथन कूल्टर नील पर लगी. उन्हें किसी ने नहीं लिया.

दूसरे सेट में ऑलराउंडरों पर लगे दांव, स्टोक्स रहे सबसे महंगे, पठान नहीं बिके
बोली के दूसरे सेट में कैप्ड ऑलराउंडरों पर दांव लगाए गए, जिसमें सबसे पहले पिछले साल के सबसे महंगे भारतीय खिलाड़ी रहे पवन नेगी पर बोली लगी. उन्हें रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू ने 1 करोड़ में खरीदा. पिछले साल उन्हें दिल्ली डेयरडेविल्स ने 8.5 करोड़ में खरीदा था, लेकिन वह अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए और इस बार उनकी कीमत गिर गई. इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स को राइजिंग पुणे सुपरजायन्ट्स ने 14.50 करोड़ में खरीदा. श्रीलंका के एंजेलो मैथ्यूज को दिल्ली डेयरडेविल्स ने 2 करोड़ में खरीदा. न्यूजीलैंड के कोरी एंडरसन को दिल्ली डेयरडेविल्स ने एक करोड़ में खरीदा. भारत के इरफान पठान की बेस प्राइस 50 लाख थी, लेकिन उन्हें किसी ने नहीं खरीदा. सीन एबॉट और क्रिस जॉर्डन को किसी ने नहीं खरीदा.

पहले सेट में केवल मॉर्गन बिके
इंग्लैंड के कप्तान इयोन मॉर्गन को किंग्स इलेवन पंजाब ने बेस प्राइस 2 करोड़ में खरीदा. बोली के पहले सेट में सबसे पहले न्यूजीलैंड के मार्टिन गप्टिल का नाम आया, लेकिन उन्हें किसी ने नहीं खरीदा. उनकी बेस प्राइस 50 लाख थी. गप्टिल के अलावा इंग्लैंड के जेसन रॉय, फैज फजल, एलेक्स हेल्स, रॉस टेलर और सौरव तिवारी नहीं बिके.

आईपीएल की 8 फ्रेंचाइजी कुल 76 खिलाड़ी खरीद सकती हैं, जिनमें 28 विदेशी खिलाड़ी भी रहेंगे. हरेक फ्रेंचाइजी अपनी टीम के लिए अधिकतम 27 खिलाड़ी खरीद सकती है. इनमें कुल 9 विदेशी खिलाड़ी हो सकते हैं. सभी फ्रेंचाइजी के पास बोली लगाने के लिए कुल 143 करोड़ 30 लाख रुपए हैं. सात क्रिकेटरों की आधार कीमत दो करोड़ रुपये तय की गई.

इन 7 क्रिकेटरों की बेस प्राइस रही 2 करोड़
इस बार नीलामी में जिन 7 खिलाड़ियों की बेस प्राइस दो करोड़ रुपये तय की गई, उनमें भारत के तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा, इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स, इयोन मॉर्गन, क्रिस वॉक्स, ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिचेल जॉनसन, पैट कमिंस और श्रीलंका के कप्तान एंजेलो मैथ्यूज रहे. स्टोक्स, मॉर्गन और वोक्स पिछले साल भारत में खेले गए टी-20 विश्व कप के फाइनल में पहुंचने वाली टीम का हिस्सा थे, वहीं बेन स्टोक्स ने ऑलराउंडर के रूप में पिछले कुछ समय से अच्छा प्रदर्शन करके सबका ध्यान खींचा है.

न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट, इंग्लैंड के विकेटकीपर-बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टॉ, वेस्टइंडीज के हरफनमौला खिलाड़ी जेसन होल्डर की बेस प्राइस 1.5 करोड़ रुपये रही.

आइए एक नजर डालते हैं सभी फ्रेंचाइजी के बैलेंस पर्स पर…

सबसे अधिक पैसे किंग्स इलेवन पंजाब के पास
किंग्स इलेवन पंजाब के पास सबसे ज्यादा पैसे बचे हुए हैं. उसके पास 23 करोड़ 35 लाख रुपए हैं जिसमें वो ज्यादा से ज्यादा 8 खिलाड़ी खरीद सकती है. उसके पास 4 विदेशी खिलाड़ियों को शामिल करने का अवसर रहेगा.

दूसरे नंबर पर दिल्ली डेयरडेविल्स
पंजाब के बाद दिल्ली की टीम है, जिसके पास 23 करोड़ 10 लाख रुपए का बैलेंस पर्स है. दिल्ली के पास फ़िलहाल 17 खिलाड़ी हैं मतलब वो इस ऑक्शन से ज्यादा से ज्यादा 10 खिलाड़ी खरीद सकती है..इसमें वो 4 विदेशी खिलाड़ियों को शामिल कर सकती है

तीसरे नंबर पर पिछले साल की चैंपियन हैदराबाद
पिछले सीज़न की चैंपियन सनराइज़र्स हैदराबाद के पास 20 करोड़ 90 लाख का पर्स बाकी है..सनराइज़र्स के पास भी 10 खिलाड़ी और खरीदने का विकल्प है, जिसमें वो 4 विदेशी खिलाड़ी और चुन सकती है

चौथे नंबर पर शाहरुख की कोलकाता नाइटराइडर्स
कोलकाता नाइटराइडर्स की टीम के पास सबसे कम खिलाड़ी बचे हैं..इसलिए ऑक्शन में ये बड़ी बोली लगा सकते हैं..इनके पास 19 करोड़ 725 लाख रुपए बाकी हैं..और ये ज्यादा से ज्यादा 13 और खिलाड़ी चुन सकते हैं जिसमें 5 विदेशी खिलाड़ी ये टीम शामिल कर सकती है

पांचवें नंबर पर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलुरू
भारतीय कप्कान विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को ऑक्शन से पहले ही मिचेस स्टारक के रूप में बड़ा झटका लगा है..वो अब टीम का हिस्सा नहीं हैं..इसके बाद टीम के पास 17 करोड़ 82 लाख 50 हज़ार का बैलेंस पर्स है..जिसमें वो 8 खिलाड़ियों को चुन सकते हैं और ज्यादा से ज्यादा 2 विदेशी खिलाड़ी इसमें शामिल किए जा सकते हैं

छठे नबंर पर राइज़िंग पुणे सुपरजायंट्स
महेंद्र सिंह धोनी के कप्तानी में ना होने के बाद सबका ध्यान राइज़िंग पुणे सुपरजायंट्स पर भी होगा..नए कप्तान की घोषणा के साथ टीम को पिछले सीज़न के प्रदर्शन में भी सुधार करना है..बैलेंस पर्स टीम के पास साढ़े 17 करोड़ रुपए है जिसमें वो 10 खिलाड़ी टीम में जोड़ सकते हैं..इसमें 4 विदेशी खिलाड़ी शामिल हो सकते हैं.

सातवें नंबर पर गुजरात लॉयन्स
2016 में सबसे मज़बूत टीम दिखने वाली गुजरात लायन्स के पास इसस सीज़न ऑक्शन्स में 14 करोड़ 35 लाख रुपए की रकम हाथ में है..इसमें वो 11 खिलाड़ी जोड़ सकते हैं जिसमें 3 विदेशी खिलाड़ी हो सकते हैं

आठवें नंबर पर मुंबई इंडियन्स
आखिर में मुंबई इंडियन्स की टीम है जिसके पास इस सीज़न सबसे कम बैलेंस पर्स है…11 करोड़ 55 लाख रुपए में मुंबई ज्यादा से ज्यादा 7 खिलाड़ी और जोड़ सकती है जिसमें 3 विदेशी खिलाड़ी हो सकते हैं.

Courtesy: NDTV

Categories: Sports

Related Articles