प्रेमिका के लिए बच्चों के सामने पत्नी को जिंदा फूंका

प्रेमिका के लिए बच्चों के सामने पत्नी को जिंदा फूंका

बरेली बरेली, बदायूं और एटा में महिलाओं के प्रति हिंसा के बड़ी वारदातें देखने को मिलीं। बरेली में तो बच्चों के सामने ही उनकी मां को जिदा जला दिया गया। एटा में मां-बेटे दोनों को जिंदा लजलाने की कोशिश की गई वहीं एक युवक ने पत्नी को मौत के घाट उतार खुद भई जहर खा लिया।

बरेली में प्रेमिका के लिए पत्नी को फूंका

बरेली में प्रेमिका के चक्कर में युवक ने तीन मासूमों के सामने पत्नी को पीट-पीटकर बेहोश कर दिया। फिर मिट्टी का तेल डालकर उसे जिंदा जला दिया। पीलीभीत पूरनपुर के गांव जटपुरा निवासी जसवंत सिंह की बेटी सरोज सिंह की शादी छह साल पहले बंजरिया निवासी नन्हे सिंह से हुई थी। पति व ससुराली दहेज के लिए सरोज को प्रताडि़त करते थे। उनके तीन बच्चे भी हुए। इस बीच नन्हे के अवैध संबंध गांव की ही युवती से हो गए। जिसका सरोज विरोध करती थी। गुरुवार रात नन्हे शराब पीकर घर आया और सरोज को लाठी-डंडों से बेहोश होने तक पीटा। इसके बाद मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। इस दौरान ससुराली मूकदर्शक बने रहे। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। आरोपी फरार हैं।

एटा में मां-बच्चों को जलाया

एटा के पिलुआ क्षेत्र के गांव कंचनगढ़ी में शुक्रवार दोपहर मां और उसके आठ माह के बेटे को जिंदा जलाने का आरोप लगाते हुए मायके वालों ने फरार हुए पति, श्वसुर और ननद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। शुक्रवार दोपहर ग्राम कंचनगढ़ी निवासी योगेश की 22 वर्षीय पत्नी विजयश्री और उसका आठ माह का पुत्र अश्वनी आग की लपटों में घिरे हुए थे। आसपास के लोगों ने उन्हें बचाने का प्रयास किया, तब तक दोनों की मौत हो गई। मौके पर पहुंचे मृतका के पिता रामवकील ने बताया कि बेटी की शादी मई 2015 में की थी। ससुराल वाले उसे प्रताडि़त कर रहे थे। अब योगेश ने परिजनों की मदद से दोनों को मार दिया। पिलुआ कोतवाली पुलिस ने मौके से मिट्टी के तेल की कट्टी, गैस सिलेंडर बरामद किया है।

बदायूं में पत्नी को मार खाया जहर

बदायूं नगर के मुहल्ला साहूकारा में युवक ने पत्नी को मौत के घाट उतारने के बाद खुद भी जहर खा लिया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। एसएसपी ने घटनास्थल का मुआयना किया। वही फोरेंसिक टीम ने साक्ष्य जुटाए। गुरुवार को साहूकारा निवासी शलभ 40 वर्षीय पत्नी लक्ष्मी के साथ शादी समारोह में शामिल होने गया था। वहां जयमाल के दौरान लक्ष्मी व कुछ अन्य महिलाओं ने फोटो ङ्क्षखचवा लिया। इस बात पर शलभ की लक्ष्मी से कहासुनी हो गई। समारोह से वापस लौटने उसने लक्ष्मी की पिटाई के बाद गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद खुद भी जहर खा लिया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मृतका के भाई की तहरीर पर पति समेत तीन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है।

Courtesy: jagran.com

Categories: Crime