IND-AUS टेस्टः ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 430 के पार, स्मिथ की जोरदार बैटिंग

IND-AUS टेस्टः ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 430 के पार, स्मिथ की जोरदार बैटिंग

रांची.भारत के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया ने लंच तक पहली इनिंग में 7 विकेट खोकर 431 रन बना लिए हैं। स्टीव स्मिथ (166) और स्टीव ओकीफे (18) क्रीज पर हैं। ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने अपने 150 रन 315 बॉल पर पूरे किए। मैच के पहले दिन स्टम्प्स तक ऑस्ट्रेलिया ने 4 विकेट खोकर 299 रन बनाए थे।दूसरे दिन कैसे गिरे ऑस्ट्रेलिया के विकेट

– मैच के दूसरे दिन सबसे पहले ग्लेन मैक्सवेल (104) आउट हुए। 101.2 ओवर में वे रवींद्र जडेजा की बॉल पर रिद्धिमान साहा को कैच दे बैठे।

– ऑस्ट्रेलिया का छठा और सातवां विकेट भी रवींद्र जडेजा ने लिया। उन्होंने 116वें ओवर में तीन बॉल के अंदर दो विकेट ले लिए।

– 115.4 ओवर में उन्होंने मैथ्यू वेड (37) को साहा के हाथों कैच कराया।

– तो वहीं इसके बाद बैटिंग करने आए पैट कमिंस (0) एक बॉल खेलकर 115.6 ओवर में जडेजा की बॉल पर बोल्ड हो गए।

सेन्चुरी लगाकर आउट हुए मैक्सवेल

– इस मैच में ग्लेन मैक्सवेल ने अपने टेस्ट करियर की पहली सेन्चुरी लगाई। वे 104 रन बनाकर आउट हुए।

– 185 बॉल की अपनी इनिंग में उन्होंने 9 चौके और 2 सिक्स भी लगाए। उन्होंने 100 रन 180 बॉल पर पूरे किए थे।

– मैक्सवेल ने करियर का चौथा टेस्ट मैच खेलते हुए करियर की पहली टेस्ट सेन्चुरी लगाई।

पहली ही बॉल पर टूटा था मैक्सवेल का बैट

– दूसरे दिन मैच की पहली ही बॉल मैक्सवेल का बैट टूट गया। उमेश यादव की बॉल बैट के हैंडल के थोड़ा सा नीचे लगी।
– बॉल को खेलने के बाद मैक्सवेल के हाथ में बैट का ऊपरी हिस्सा ही रह गया और बाकी का हिस्सा सामने की ओर पिच पर गिर गया।
– उमेश यादव की ये बॉल 137 KM/H की स्पीड से आई थी, और जो बैट टूटा वो बहुत पुराना भी नहीं था।

पांचवें विकेट के लिए जुड़े 191 रन

– ग्लेन मैक्सवेल पांचवें बैट्समैन के रूप में आउट हुए।

– आउट होने से पहले उन्होंने कप्तान स्टीव स्मिथ के साथ 5th विकेट के लिए 191 रन की पार्टनरशिप की।

– इस पार्टनरशिप के दौरान मैक्सवेल ने 104 और स्टीव स्मिथ ने 76 रन बनाए।

– पहली इनिंग में ये ऑस्ट्रेलिया की ओर से हाइएस्ट रन की पार्टनरशिप रही।

कैसा रहा था पहले दिन का खेल

– मैच में ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ ने मैच में टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने का फैसला किया।

– उनका ये फैसला तब गलत साबित होता दिख रहा था जब 89 रन तक टीम के तीन बैट्समैन पवेलियन लौट गए।

– इसके बाद चौथे विकेट के लिए कप्तान स्टीव स्मिथ और पीटर हैंड्सकॉम्ब ने 51 रन की पार्टनरशिप की।

– ये जोड़ी 140 रनों पर जाकर टूटी। इसके बाद बैटिंग करने उतरे ग्लेन मैक्सवेल ने कप्तान का जमकर साथ दिया।

– दोनों ने चौथे विकेट के लिए ना केवल 159* रन जोड़ दिए, बल्कि कोई विकेट भी नहीं गिरने दिया।

– भारत की ओर से पहले दिन उमेश यादव सबसे सफल बॉलर रहे, उन्होंने 2/63 विकेट लिए।

– इसके अलावा रवींद्र जडेजा को 1/80 और आर. अश्विन को भी 1/78 विकेट मिला।

पहले दिन कैसे आउट हुए थे ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर्स

– मेहमान टीम को पहला झटका डेविड वॉर्नर (19) के रूप में लगा था। जब 9.4 ओवर में रवींद्र जडेजा ने उन्हें अपनी ही बॉल पर कैच कर लिया।

– इसके बाद दूसरा विकेट 22.3 ओवर में गिरा था। जब फिफ्टी के करीब पहुंच चुके मैट रैनशॉ (44) उमेश यादव की बॉल पर स्लिप में विराट को कैच दे बैठे।

– आर. अश्विन ने 25.1 ओवर में शॉन मार्श को आउट कर ऑस्ट्रेलिया को तीसरा झटका दिया था। मार्श का कैच चेतेश्वर पुजारा ने लिया।

– ग्राउंड अंपायर ने जब मार्श को आउट नहीं दिया, तो भारतीय टीम ने रिव्यू लिया, जो टीम इंडिया के फेवर में गया।

– चौथा विकेट लंच के बाद गिरा था। जब 42.2 ओवर में उमेश ने हैंड्सकॉम्ब (19) को lbw कर दिया। इस वक्त स्कोर 140/4 रन था।

Courtesy: Bhaskar

 

Categories: Sports

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*