लखनऊ में जिस स्मृति उपवन को मायावती ने सजाया संवारा था, अब वहां भाजपा के मुख्यमंत्री लेंगे शपथ

लखनऊ में जिस स्मृति उपवन को मायावती ने सजाया संवारा था, अब वहां भाजपा के मुख्यमंत्री लेंगे शपथ

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में भारी बहुमत से जीतने वाली बीजेपी का विधायक दल शनिवार को प्रदेश के नए मुख्यमंत्री के नाम पर औपचारिक मुहर लगाएगा। इसके बाद रविवार यानी 19 मार्च को नए मुख्यमंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ लेंगे। अधिकारी इस शपथ ग्रहण समारोह की तैयारियों में जुटे हैं। इस शपथ ग्रहण का आयोजन लखनऊ के स्मृति उपवन में शाम पांच बजे किया गया है। इस स्मृति उपवन को बसपा सुप्रीमो और पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने सजाया संवारा था लेकिन अब इसमें बीजेपी द्वारा चुना गया मुख्यमंत्री शपथ लेगा। आपको बता दें कि इस पार्क का निर्माण 2007 में किया गया था। लखनऊ महोत्सव के समय इस्तेमाल होने वाले इस उपवन में इससे पहले किसी भी मुख्यमंत्री ने शपथ नहीं ली है। इस का मैदान प्रदेश के दूसरे नम्बर पर आता है। इस मैदान में करीब 3 लाख लोग आ सकते हैं। यहां पर दो मंचों का निर्माण किया जाएगा। जहां एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बैठेंगे तो वहीं दूसरी तरफ सूबे के राज्यपाल समेत शपथ लेने वाले मंत्री और मुख्यमंत्री बैठेंगे।

प्रदेश चुनाव में 14 साल से लंबे वनवास के बाद बीजेपी ने जबरदस्त वापसी तो कर ली लेकिन अभी तक पार्टी ये नहीं तय कर पाई है कि राज्य का अगला सीएम कौन होगा। गृह मंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा के राष्ट्रीय संगठन सचिव राम लाल, केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा, यूपी भाजपा के अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य, भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा, लखनऊ के मेयर दिनेश शर्मा इत्यादि के नामों को लेकर मीडिया पिछले सात दिनों से अटकलें लगा रहा है।

यूपी का अगला सीएम चाहे जो भी हो लेकिन कुर्सी संभालते ही उनके सामने कई बड़ी चुनौतियां होंगी। इनमें माताओं की मौत दर, कुपोषित बच्चे, शिक्षा में पिछड़ापन, युवाओं में भारी बेरोजगारी, रोजगार के लिए पलायन, सबसे सुस्त औद्योगिक विकास, खेती और किसानी संकट और आधे से ज्यादा परिवारों के पास बिजली नहीं होने जैसी सम्स्याएं शामिल हैं।

उधर, केन्द्र में नरेंद्र मोदी सरकार में मंत्री अनुप्रिया पटेल ने आशा जताई है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में बीजेपी को मिली भारी जीत के बाद उनकी पार्टी अपना दल (सोनेलाल) के कुछ विधायकों को उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री बनाया जा सकता है। अपना दल के नव निर्वाचित विधायकों के साथ पहली मीटिंग करते हुए अनुप्रिया पटेल ने कहा कि बीजेपी की सहभागी होने के नाते हमारी पार्टी भी प्रदेश सरकार का हिस्सा होगी।

Courtesy:Jansatta

Categories: Politics