किसानों के कंकाल के साथ भूख हड़ताल पर बैठे किसान

किसानों के कंकाल के साथ भूख हड़ताल पर बैठे किसान

नई दिल्ली। तमिलनाडु में किसानों की स्थिति में सुधार की मांग को लेकर जंतर-मंतर पर किसानों के कंकाल के साथ तमिलनाडु के किसान भूख हड़ताल पर बैठे है। किसानों की मांग है कि सरकार तमिलनाडु के किसानों की स्थिति में सुधार के लिए उनके कर्ज को माफ करे और साथ ही सूखा राहत पैकेज की घोषणा करे। बताया जा रहा है कि यह कंकाल उन किसानों के हैं जिन्होंने ऋण के बोझ में आत्महत्या कर ली थी।

 

आमतौर पर लोग धरना-प्रदर्शन करने के लिए जंतर-मंतर पर सांकेतिक पुतले व पोस्टर बैनर का प्रयोग करते है, मगर ऐसा पहली बार है जब कोई अपनी मांगों को लेकर नर कंकालों के साथ हड़ताल पर बैठा है। अब भी इन किसानों की भूख हड़ताल जारी है। भूख हड़ताल की अगुवाई कर रहे पी अय्याकन्नु ने बताया कि ‘हमने अपना विरोध प्रदर्शन कल शुरू किया था लेकिन कोई भी हमारे मुद्दों को सुनने को तैयार नहीं है। हम लोग प्रदर्शन खत्म करने की योजना तब तक नहीं बना रहे जब तक केंद्र सरकार हमें बातचीत के लिए नहीं बुलाती है।’
किसानों की मांग है कि तमिलनाडु को सूखे से बचाने के लिए कावेरी नदी को संरक्षण दिया जाए। साथ ही कृषि उत्पादों का उचित मूल्य दिया जाए। किसानों का कहना है कि बढ़ते कर्ज की वजह से कई किसान आत्महत्या कर चुके हैं, इसलिए हमारे पास प्रदर्शन के अलावा कोई विकल्प नहीं है।

Courtesy: nationaldastak

Categories: India