धोनी के पर्सनल डीटेल्स ट्विटर पर लीक करने वाला आधार सेंटर 10 साल के लिए ब्लैकलिस्ट

धोनी के पर्सनल डीटेल्स ट्विटर पर लीक करने वाला आधार सेंटर 10 साल के लिए ब्लैकलिस्ट

नई दिल्ली
क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी के ‘आधार’ से जुड़े फॉर्म के जरिए उनकी पर्सनल डीटेल्स ट्विटर पर लीक होने के मामले में कड़ी कार्रवाई की गई है। जिस सेंटर ने यह काम किया, उसे दस साल के लिए ब्लैकलिस्ट कर दिया गया है। पूरे मामले की जांच भी जारी है।

मंगलवार को मामला सामने आने के बाद कार्रवाई करते हुए यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) ने बुधवार को उस सेंटर को 10 साल के लिए ब्लैकलिस्ट कर दिया, जिसके कर्मचारियों ने धोनी और उनकी पत्नी साक्षी की पर्सनल डीटेल्स से जुड़ा आधार का फॉर्म ट्विटर पर पोस्ट कर दिया था।

महेंद्र सिंह धोनी की पत्नी साक्षी सिंह ने मंगलवार को इस पर कड़ी नाराजगी जताते हुए आईटी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद से ट्विटर पर ही शिकायत की थी। मंत्री के संज्ञान में मामला आने के बाद माना जा रहा था कि सख्त कार्रवाई की जाएगी। हालांकि उस ट्वीट को बाद में हटा लिया गया था, लेकिन तब तक वह वायरल हो चुका था और कई लोग उसे सेव कर चुके थे।

आईटी मिनिस्ट्री के लिए भी यह मामला सोशल मीडिया पर शर्मिंदगी की वजह बन गया क्योंकि सोशल मीडिया पर लोगों ने इसके सहारे ‘आधार’ की सुरक्षा और डेटा लीक होने से जुड़े सवाल पूछने शुरू कर दिए थे।
Courtesy: NBT
Categories: India