5 राज्यों के 20 शहरों में पारा 40 के पार, अकोला में टेम्परेचर 44 डिग्री पहुंचा

5 राज्यों के 20 शहरों में पारा 40 के पार, अकोला में टेम्परेचर 44 डिग्री पहुंचा

नई दिल्ली.देश के करीब सभी हिस्सों में गर्म हवाएं चल रही हैं। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और झारखंड के करीब 20 शहरों में पारा 40 के पार पहुंच गया है। नॉर्थ इंडिया में बुधवार को लू चली, जिससे लोगों को काफी परेशानी हुई। वेदर डिपार्टमेंट के मुताबिक उत्तर से आ रही सूखी और गर्म हवाओं की वजह से ऐसा हो रहा है। सीनियर वेदर साइंटिस्ट एसके डे ने बताया कि दक्षिण पश्चिमी मप्र, गुजरात और राजस्थान के पास जमीन से 5.8 किमी ऊपर एक ऐसा सिस्टम बना है, जिससे तेज गर्म हवाएं फैल रही हैं। इसी वजह से टेम्परेचर बढ़ा है। अभी और बढ़ने के आसार हैं…

 

# मध्य प्रदेश

– बुधवार को प्रदेश के कई इलाके लू की चपेट में रहे। होशंगाबाद में पारा 43 डिग्री तक पहुंच गया। खजुराहो में टेम्परेचर 42.6 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। दमोह, रतलाम और खरगोन में भी 42.5 डिग्री तक पहुंच गया। उज्जैन और श्याेपुर कलां में दिन का पारा 42 डिग्री रहा। भोपाल में लगातार दूसरे दिन मैक्सिमम टेम्परेचर 40.4 डिग्री दर्ज किया गया। गुरुवार को भी मौसम ऐसा ही रहने की अनुमान है।

– होशंगाबाद 43.0
– खजुराहो 42.6
– दमोह 42.5
– शाजापुर 42.2
– ग्वालियर 41.6
– जबलपुर 40.9
– इंदौर 40.6
– भोपाल 40.4

# महाराष्ट्र

– महाराष्ट्र के रायगढ़ के भीरा में गर्मी ने नया रिकॉर्ड बनाया है। 46.5 डिग्री के साथ यह देश में सबसे गर्म स्थान रहा।

– अकोला 44.1

– भीरा 46.5

# राजस्थान
– जोधपुर 40.2
– फलौदी 43.0
– बीकानेर 43.0
– बाड़मेर 43.4
– जैसलमेर 41.9

# छत्तीसगढ़
– रायपुर 41.6
– दुर्ग 38.8
– बिलासपुर 42.0
– जगदलपुर 39.1

# झारखंड
– जमशेदपुर 43.1
– बोकारो 42.4
– डालटनगंज 41.6
– रांची 39.2

इन राज्यों में पड़ेगी तेज गर्मी
– पुणे मौसम विभाग के मुताबिक इस साल पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, वेस्ट बंगाल, ओडिशा और तेलंगाना में नॉर्मल से ज्यादा टेम्परेचर रह सकता है।
– महाराष्ट्र के मराठवाड़ा, सेंट्रल महाराष्ट्र-विदर्भ और कोंकण के कोस्टल एरिया में एवरेज से ज्यादा गर्मी पड़ सकती है।

पिछली बार 115 साल का रिकॉर्ड टूटा था
– 1901 के बाद 2016 सबसे ज्यादा गर्म साल था। उस दौरान राजस्थान के फलौदी में टेम्परेचर 51 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था।
– पिछले साल देशभर में गर्मी से 1600 लोगों की मौत हुई थी। इनमें से 700 मौतें लू के कारण हुई थीं। आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में सबसे अधिक 400 लोग मारे गए थे। वेदर डिपार्टमेंट के मुताबिक, 1901 के बाद जनवरी 2017 आठवां सबसे गर्म महीना रहा है।

Courtesy: Bhaskar.com

Categories: India

Related Articles