योगीराजः जनता की छोड़िए दरोगा भी सुरक्षित नहीं है यूपी में

योगीराजः जनता की छोड़िए दरोगा भी सुरक्षित नहीं है यूपी में

फर्रूखाबाद। यूपी में अपराधी इतने निडर हो चुके है कि जनता के साथ-साथ प्रशासन पर भी हमला करने से नहीं चुक रहे। योगी सरकार ने मलचलों पर नकेल कसने के लिए एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन तो कर दिया लेकिन हत्या और लूटपाट जैसे गंभीर अपराध को अंजाम देने वाले गुंडों के लिए कोई कड़ा निर्णय नहीं लिया जा रहा।

 

ताजा मामला फर्रूखाबाद इलाके का है जहां बैंक से रूपये निकाल मोपेड से घर लौट रहे रिटायर्ड दरोगा से तमंचा की नोक पर बदमाशों ने दो लाख रूपये लूट लिए। अमर उजाला कि रिपोर्ट के मुताबिक, ये घटना क्षेत्र के जसमई बाईपास पेट्रोल पंप के पास हुआ है, सोमवार को हुई इस वारदात की सूचना पर पुलिस ने बैंक के सीसीटीवी फुटेज खंगाले, लेकिन लुटेरों का सुराग नहीं लग सका।

एसओ संजीव राठौर का कहना है कि रिपोर्ट दर्ज कर जांच की जा रही है। थाना मऊधरवाजा के गांव महलई निवासी रिटायर्ड महेशचंद्र राजपूत का प्लॉट हिथियापुर-नवाबगंज मार्ग पर है। महेशचंद्र यहां पर मकान का निर्माण करा रहे हैं। सोमवार को वह अपने परिचित ईशवरदयाल के साथ मोपेट से शहर के स्टेट बैंक से दो लाख रूपये निकालकर घर लौट रहे थे।

तभी जसमई बाईपास पेट्रोल पंप के आगे बाइक सवार दो लुटेरों ने रिटायर्ड दरोगा की मोपेड को ओवरटेक कर रोक लिया। इस दौरान पीछे बैठे युवक ने तमंचा निकाल उन पर तान दिया और मोपेड में लटका नोटों भरा थैला लूट कर फरार हो गए। सूचना मिलने पर एसओ पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने स्टेट बैंक के सीसीटीवी फुटेज को खंगाला लेकिन अभी तक कोई सुराग नहीं मिला। महेशचंद्र ने घटना की तहरीर थाना पुलिस को दी।

Courtesy: nationaldastak

 

Categories: Politics