भाजपा नेता दलितों की करोड़ों की जमीन पर जबरन कर रहे कब्जा, दलित मजदूरी करने पर मजबूर

भाजपा नेता दलितों की करोड़ों की जमीन पर जबरन कर रहे कब्जा, दलित मजदूरी करने पर मजबूर

सतना। मध्य प्रदेश में भाजपा के नेता लोगों की जमीन पर अवैध कब्जा करने में जुटे हैं। हालात यहां तक हो गए हैं कि करोड़ों की जमीन के मालिक कई लोग मजदूरी करके अपना पेट भर रहे हैं, और उनकी जमीनों पर भाजपा नेताओं के शो रूम और फॉर्महाउस बन गए हैं।
पत्रिका में छपी विस्तृत रिपोर्ट के अनुसार, सतना में भाजपा के बड़े नेता लक्ष्मी यादव और नरेश अग्रवाल संपतिया चौधरी की जमीन कब्जा चुके हैं। सरकारी दर्ज रही कृपालपुर हल्के की आराजी नंबर 69/3 रकबा 12.66 एकड़ जमीन की 1995 में संपतिया के नाम अदालत से डिक्री हुई थी, लेकिन जमीन पर कब्जा कर लिया लक्ष्मी यादव और नरेश अग्रवाल का ही रहा। संपतिया तो अब इस दुनिया में नहीं है, लेकिन दूसरे नंबर की बेटी रामकली को डरा-धमकाकर भाजपाई नेताओं ने उसकी जमीन छीन ली।
संपतिया की बेटी रामकली का कहना है कि बेशकीमती 12.66 एकड़ जमीन के बदले भूमाफिया ने उन्हें केवल 5 लाख रुपए मिले थे। चार बहनों में दूसरे नंबर की रामकली बताती हैं कि पिता ने इस रकम में से 20-20 हजार रुपए उन्हें दिए थे। बाकी के रुपए अपने इलाज में खर्च कर दिए।

 

 

सतना नगरनिगम के बाहरी इलाके में कृपालपुर की दलित बस्ती में संपतिया का पुस्तैनी मकान है, जिसमें उनकी बेटियां बेहद दुर्दशा में रहती हैं। केवल 5 डिसमिल जमीन पर बने मकान को देखकर कोई नहीं कह सकता कि यह उस परिवार का घर है जिसके नाम पर कभी नगरनिगम क्षेत्र की 12.66 एकड़ जमीन आई थी। 2003 में संपतिया के मरने के बाद बेटी, दामाद सहित परिवार के बाकी सदस्य मजदूरी कर घर चलाते हैं।
रामकली बताती हैं कि जमीन की डिक्री उनके पिता के नाम होते ही गुंडे देर रात उनके घर आकर धमकाने लगे और जान बचाने के लिए जमीन उन्हें देनी पड़ी। सरकारी से निजी स्वामित्व में आई कृपालपुर की बेशकीमती जमीन संपतिया से छीनने में अफसरों की भी मिलीभगत है। रसूखदारों के हाथों जमीन पहुंचते ही सरकारी अमले ने धड़ाधड़ रजिस्ट्री कराई और नामांतरण काट दिया।
रामकली के बेटे कहते हैं कि ये जो बड़ी-बड़ी गाडिय़ों की दुकान(अग्रवाल मोटर्स शोरुम) और बाउंड्री के भीतर बना बाग-बगीचा(भाजपा नेता लक्ष्मी यादव का फार्म हाउस) उनके नाना की जमीन पर ही बना है।

Courtesy: nationaldastak

Categories: India

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*