यूपी: दलित किसान ने थाने में खुद को लगाई आग

यूपी: दलित किसान ने थाने में खुद को लगाई आग

कानपुर। दलित किसान ने शनिवार की दोपहर मंडावर थाने में मिट्टी का तेल छिड़ककर खुद को आग लगा ली। बताया जा रहा है कि दबंग व्यक्ति द्वारा फसल काटने से आहत किसान यह कदम उठाने को मजबूर हुआ। इस घटना के दौरान थाने में समाधान दिवस चल रहा था। इसके बाद आनन-फानन में पुलिसकर्मियों ने किसान पर कंबल डालकर आग बुझाई। गंभीर हालत में उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 

मंडावर थाना क्षेत्र के गांव राजारामपुर निवासी धर्मवीर (40) पुत्र गरीबा की खादर क्षेत्र में गंगा पार पट्टे की 15 बीघा जमीन है। गांव निवासी उदय चौहान से उक्त जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। शनिवार को मंडावर थाने में समाधान दिवस चल रहा था। बिजनौर तहसीलदार व अन्य स्टाफ शिकायतें सुन रहा था। इसी बीच एसओ के दफ्तर के पास धर्मवीर ने अपने शरीर पर केरोसिन डालकर आग लगा ली और दौड़कर अफसरों के पास पहुंच गया। आग से लपटों में घिरे धर्मवीर को देखकर सरकारी कर्मचारियों के हाथ-पांव फूल गए। मौजूद लोगों ने कंबल डालकर धर्मवीर की आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन तब तक वह बुरी तरह झुलस गया।

 

घटना से थाने में अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन में उसे एंबुलेंस से जिला अस्पताल पहुंचाया। सूचना पर एसपी अजय कुमार साहनी अफसरों साथ जिला अस्पताल में पीड़ित से घटना की जानकारी ली।

 

धर्मवीर का आरोप है कि उसने अपनी पट्टे की जमीन पर पिछले साल गन्ना बुआई की थी। गांव के दबंग उदय चौहान ने उस पर अपना कब्जा जताते हुए गन्ना काट लिया था। पिछले समाधान दिवस पर उसने शिकायत की। शिकायत के एक सप्ताह बाद लेखपाल ने समझौता कराया, लेकिन शुक्रवार को दबंग ने उसके हिस्से की फसल फिर से काट ली। लेखपाल से लेकर अफसरों तक गुहार लगाने का कोई असर नहीं हुआ।

 

घटना को लेकर लखनऊ से भी मामले की रिपोर्ट तलब कर ली गई है। पुलिस-प्रशासन जांच में जुटा है। झुलसे किसान की हालत नाजुक देखते हुए दिल्ली के सफदरगंज रेफर करने की तैयारी की जा रही थी।

Courtesy: nationaldastak

 

Categories: Regional

Related Articles