MCD चुनाव 2017: एक बूथ ऐसा जहां हैं सिर्फ दो ही वोटर

MCD चुनाव 2017: एक बूथ ऐसा जहां हैं सिर्फ दो ही वोटर

नई दिल्ली: रविवार को दिल्ली नगर निगम का चुनाव है. वोटरों के लिए हर वार्ड में कई बूथ बने हैं. हर बूथ पर हजार और उससे ज्यादा भी वोटर हैं, लेकिन एक बूथ ऐसा भी है जहां केवल दो ही वोटर हैं. दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के केशोपुर के इस स्कूल के बूथ नंबर पर 21 पर केवल दो ही वोटर रविवार को वोट करेंगे. दरअसल, वार्ड नंबर 12 एस के इस बूथ पर सीआरपीएफ में काम करने वाले जमील अहमद और उनकी पत्नी अतीया प्रवीण का ही केवल वोट है. इलाके की भाजपा की उम्मीदवार का दावा है कि वह या फिर उनका कार्यकर्ता सिंबल लेकर एक-एक वोटर के दरवाजे तक पहुंचा है.

इस वार्ड से भाजपा की उम्मीदवार श्वेता सैनी का कहना है कि लोकतंत्र में जो वोट की कीमत है वह भाजपा से बेहतर कोई नहीं समझ सकता है, क्योंकि हमारी वाजपेयी जी की सरकार केवल एक वोट से गिर गई थी, तो मेरे लिए एक-एक वोट उतना ही कीमती है जितना मेरे लिए एक-एक बूथ कीमती है. तो एक बूथ पर दो वोट हों या दो हजार वोट हो तो मेरे लिए बूथ उतना महत्वपूर्ण है.

वहीं, कांग्रेस की उम्मीदवार का दावा है कि दिल्ली से दूर होने की वजह से उन दो वोटरों से मुलाकात तो नहीं हो पाई पर फोन पर बात जरूर हुई. भरोसा मिला है कि रविवार को दोनों वोटर दिल्ली में होंगे और वोट करेंगे. कांग्रेस की उम्मीदवार शिल्पा कपूर ने एक-एक वोट की कीमत भी बताई.

राजस्थान में एक वोट से सीपी जोशी अपना चुनाव भी हार गए थे. सीएम बनते बनते रह गए थे. तो ये तो सबको बहुत अच्छे से पता है कि हर वोट कीमती है और जो हमारा 21 नंबर बूथ है उस पर दो वोट हैं. हमलोगों ने उन तक पहुंचने की कोशिश की थी. वे अभी दिल्ली से बाहर हैं. उनसे बात की थी कि वे लोग वोट करने जरूर आएंगे और उस बूथ पर ही 100 प्रतिशत वोटिंग रहेगी.

COurtesy:NDTV 

Categories: India