दिल्ली गैंगरेप केस : फैसला सुन भावुक हुई निर्भया की मां, लोगों ने तालियां बजाकर कोर्ट को कहा- शुक्रिया

दिल्ली गैंगरेप केस : फैसला सुन भावुक हुई निर्भया की मां, लोगों ने तालियां बजाकर कोर्ट को कहा- शुक्रिया

नई दिल्ली: निर्भया गैंगरेप मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाते हुए हाईकोर्ट द्वारा दी गई फांसी की सजा को बरकरार रखा है. उस समय कोर्ट में निर्भया के माता-पिता भी मौजूद थे. फैसला सुनकर निर्भया की मां भावुक हो गईं और उनकी आंखों में आंसू आ गए. सुप्रीम कोर्ट ने इस संबंध में अहम टिप्पणियां भी कीं. सुप्रीम कोर्ट ने कहा-सेक्स और हिंसा की भूख के चलते बड़ी वारदात को अंजाम दिया. दोषी अपराध के प्रति आसक्त थे. जैसे अपराध हुआ, ऐसा लगता है अलग दुनिया की कहानी है.  घटना की रात नाबालिग समेत सभी दोषी बस में मौजूद थे. पुलिस की जांच और डीएनए से गुनाह साबित हुआ. जजों के फैसला सुनाने के बाद कोर्ट में तालियां बजीं.

गैंगरेप के चार दोषियों मुकेश, अक्षय, पवन और विनय को साकेत की फास्ट ट्रैक कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी, जिस पर 14 मार्च  2014 को दिल्ली हाईकोर्ट ने भी मुहर लगा दी थी. दोषियों की अपील पर सुप्रीम कोर्ट ने फांसी की सजा पर रोक लगा दी थी. इसके बाद तीन जजों की बेंच को मामले को भेजा गया और कोर्ट ने केस में मदद के लिए दो एमिक्‍स क्यूरी नियुक्त किए गए थे.

कोर्ट की 7 सख्त टिप्पणियां

  1. पीड़िता के बयानों पर संदेह नहीं किया जा सकता.
  2. ऐसी घटना को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता
  3. वारदात को क्रूर और राक्षसी तरीके से अंजाम दिया गया
  4. अपराध अलग दुनिया की कहानी जैसा
  5. सेक्स और हिंसा की भूख के चलते बड़ी वारदात को अंजाम दिया
  6. सबूत मिटाने के लिए पीड़ित और दोस्त को बाहर फेंका

7. वारदात ने समाज की सामूहिक चेतना को हिला दिया

Courtesy:NDTV 

Categories: India

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*