स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) की सेवाएं लेनी है तो ‘लाइन में लगने’ की जरूरत नहीं! यह है बैंक की ‘नो क्यू’ सर्विस

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) की सेवाएं लेनी है तो ‘लाइन में लगने’ की जरूरत नहीं! यह है बैंक की ‘नो क्यू’ सर्विस

नई दिल्ली: एसबीआई (State Bank of India) के कस्टमर और नॉन-कस्टमर्स, दोनों, के लिए यह खबर काम की है. देश के सबसे बड़े बैंक SBI में लंबी- लंबी कतारों के चलते यदि आपका काफी समय अपना छोटा सा काम करवाने के चलते निकल जाता है तो सच तो यह है कि आपको लंबी लाइनों में खड़े होने की जरूरत है ही नहीं. स्टेट बैंक ने अपनी ई-टोकन सर्विस (e-token) पेश की है. कस्टमर यह टोकन इसकी नई ऐप नो क्यू (No Queue) से ले सकते हैं.

एंड्रॉयड स्मार्टफोन धारक गूगल प्ले स्टोर से और ऐपल फोन धारक ऐपल स्टोर से इस ऐप को डाउनलोड कर सकते हैं. इस ऐप के जरिए आप ई-टोकन ले सकते हैं और कुछ खास सेवाओं और चुनिंदा बैंक शाखाओं में इसका प्रयोग कर सकते हैं. यानी, इस ई-टोकन को ले जाइए और नंबर के मुताबिक काउंटर पर जाकर सेवा प्राप्त कर लीजिए. अलग से लाइन में खड़े होने की आपको जरूरत नहीं होगी.

एसबीआई की इस ऐप को बैंक की चेयरपर्सन अरुंधति भट्टाचार्य ने पिछले साल लॉन्च किया था. बता दें कि इस ऐप को डाउनलोड करने के लिए आपको पेमेंट करने की जरूरत नहीं है और यह पूरी तरह से फ्री है. एसबीआई ने एक प्रेस रिलीज में कहा कि कस्टमर्स का कीमती समय इस ऐप के प्रयोग से बचेगा, बैंकिंग सेवाओं के समाधान के लिए लंबी कतारों से बचेंगे.

इस ई-टोकन या यूं कहें कि वर्चुअल टिकट के जरिए ऐप में एक या ज्यादा से ज्यादा पांच सेवाओं को चुना जा सकता है. आप इन सेवाओं में से जरुरतानुसार चुन सकता हैं- कैश डिपॉजिट, कैश विदड्रॉल, चेक डिपॉजिट, डिमांड ड्राफ्ट, NEFT/RTGS आदि.

गूगल प्ले स्टोर पर इस ऐप को लेकर की गई व्याख्या के मुताबिक, ऐप से आपको ‘पंक्ति में अपनी मौजूदगी का रियल टाइम स्टेटस’ पता चलता रहेगा. यदि आप घर या ऑफिस या रास्ते में कहीं हैं तब आप इसके जरिए ई-टोकन लेकर अपना अच्छा खासा समय बचा  सकते हैं. ऐप से आपको यह पता चलता रहेगा कि कितने लोग पंक्ति में हैं, कितने कस्टमर आपसे आगे हैं. ऐप डाउनलोड करके उस पर रजिस्टर होने वाले हरेक कस्मटर को ये सुविधाएं मिलेंगी. इससे फर्क नहीं पड़ता कि आप एसबीआई के मौजूदा ग्राहक हैं या नहीं हैं.

Courtesy: NDVT

Categories: India

Related Articles