इस साल नॉर्मल बारिश की उम्मीद, पैदावार में हो सकता है 15% इजाफा: IMD

इस साल नॉर्मल बारिश की उम्मीद, पैदावार में हो सकता है 15% इजाफा: IMD
नई दिल्‍ली.   वेदर डिपार्टमेंट ने मानसून के अपने पिछले अनुमान में बदलाव करते कहा है कि इस साल मानसून नॉर्मल रहेगा। इससे पहले उसने मानसून के नॉर्मल से 4% कम रहने का अनुमान लगाया गया था। मानसून नॉर्मल रहने से इस साल एग्री प्रोडक्शन में भी 15% की बढ़ोत्तरी की उम्‍मीद जताई गई है। अलनीनो का असर…
– वेदर डिपार्टमेंट के मुताबिक, इस साल अलनीनो के असर के चलते मानसून कमजोर माना जा रहा था। अब इसके असर का डर बेहद कम है। ऐसे में, साउथ वेस्‍ट मानसून में बढ़ोत्तरी हो सकती है। लाॅन्ग टर्म एवरेज में मानसून 100% रह सकता है।
– बता दें कि पिछले साल वेदर डिपार्टमेंट ने मानसून नॉर्मल से 6% ज्यादा रहने की उम्मीद जताई थी, लेकिन यह नॉर्मल से कम ही रहा था। हालांकि, यह बीते दो सालों के मुकाबले बेहद अच्‍छा था। इसकी वजह से देश में एग्री प्रोडक्शन में जबर्दस्त बढ़ोत्तरी हुई।
एग्री प्रोडक्शन में 15% बढ़ोत्तरी के अासार
– पिछले साल मानसून बेहतर रहने से खरीफ में धान और दाल वाली फसलों का जबर्दस्त प्रोडक्शन हुआ। इसके अलावा रबी में गेहूं की भी अच्छी पैदावार हो सकी।
– सरकार के चौथे अनुमान में इस साल दालों का प्रोडक्शन करीब 2.2 करोड़ टन और गेहूं का प्रोडक्शन 9.8 करोड़ टन होने के आसार हैं। ऐसे में, अब वेदर डिपार्टमेंट ने इस साल के लिए भी एग्री प्रोडक्शन में 15% बढ़ोत्तरी की उम्‍मीद जताई है।
– माना जा रहा है कि खरीफ में इस साल पिछले साल से ज्‍यादा बुआई हो सकती है। इसका असर अगले सीजन की रबी की फसल पर भी पड़ेगा।
बिहार में कम हुआ टेम्परेचर
– वेदर डिपार्टमेंट की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, बिहार में तेज बारिश ने गर्मी से राहत दी है। यहां टेम्परेचर में गिरावट दर्ज की गई है। इसके साथ ही आंधी-तूफान से राज्‍य में नुकसान भी काफी हुआ है।
– इससे पहले कृषि मंत्री ने सभी राज्‍यों को लेटर लिखकर आने वाले मानसून के लिए तैयार रहने को कहा है, ताकि वक्त पर बचाव और नुकसान से बचने के उपाय किए जा सकें
Courtesy: Bhaskar
Categories: Finance