3 घंटे के लिए EVM दे दो; गुजरात में एक सीट तो क्या एक बूथ भी नहीं जीत पाएगी BJP- भारद्वाज

3 घंटे के लिए EVM दे दो; गुजरात में एक सीट तो क्या एक बूथ भी नहीं जीत पाएगी BJP- भारद्वाज

नई दिल्ली। आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया था। सत्र की शुरुआत ईवीएम से छेड़छाड़ के मुद्दे से हुई। सदन में पहले अलका लांबा ने यह मुद्दा उठाया और कहा कि अगर ईवीएम पर शक है तो क्या उसकी जांच नहीं होनी चाहिए। नई ईवीएम होते हुए भी एमसीडी चुनाव पुरानी मशीन से हुए। जिसके बाद आप नेता सौरभ भारद्वाज ने ईवीएम से छेड़छाड़ का डेमो दिया। वो असली ईवीएम की बजाय उसके जैसी दिखने वाली एस दूसरी मशीन लेकर आए थे।
भारद्वाज ने ईवीएम से छेड़छाड़ का डेमो शुरू किया जिसे देखने कई दलों के नेता सदन में मौजूद थे। सौरभ भारद्वाज ने कहा कि मैं एक मशीन लाया हूं। यह EVM की तरह है। यह उसी मशीन की तरह है जिस मशीन का बटन दबाकर लोग हिन्दुस्तान का भविष्य चुनते हैं। उन्होंने अलग-अलग दलों को वोट देते हुए यह बताया कि किस तरह मशीन से छेड़छाड़ हो सकती है।

 
असेंबली में सौरभ भारद्वाज ने एक डेमो देकर दिखाया था कि जिस पार्टी को जितवाना होता है, उसका एक कोड होता है। उसी का इस्तेमाल मदरबोर्ड में टेम्परिंग के दौरान फिट किया जाता है। सदन में वह कुछ कोड भी दिखाते हैं। भारद्वाज दावा करते हैं कि बटनों के द्वारा पार्टी के कार्यकर्ता सीक्रेट कोड डालकर चले जाते हैं। डेमो के दौरान आप विधायक सौरभ बताते हैं कि कोड डालने के बाद 10 लोग वोट डालने आए और सबने झाड़ू को वोट दिया। इस तरह आप को कुल 10 वोट मिलने चाहिए लेकिन जब ईवीएम का रिजल्ट आता है तो भाजपा को सबसे ज्यादा वोट मिला हुआ दिखाई देता है।

 
भारद्वाज ने सदन में भिंड की घटना का भी जिक्र किया जिसमें कोई भी बटन दबाने पर वोट बीजेपी को ही जाता था। उन्होंने कहा कि मैंने बीजेपी की वजह से इंजीनियरिंग छोड़ी थी। आज बीजेपी की वजह से फिर इंजीनियरिंग करनी पड़ रही है। सौरभ ने कहा कि गुजरात में जहां-जहां चुनाव हैं वहां 3 घंटे के लिए EVM दे दीजिए, चैलेंज है बीजेपी एक सीट क्या एक भी बूथ नहीं जीत पाएगी।

 

सौरभ ने कहा कि भाजपा गुजरात में भी ईवीएम के सहारे जीतेगी। अब कोडिंग का काम हमने भी सीख लिया है। इसका नतीजा देखना है तो गुजरात चुनाव में इस्तेमाल होने वाली ईवीएम तीन घंटे के लिए हमें दे दो। एक सीट की तो बात क्या एक बूथ भी भाजपा नहीं जीत पाएगी। उन्होंने कहा कि ईवीएम में सिर्फ मदरबोर्ड चेंज करना होता है जिसमें सिर्फ 90 सेकेंड लगते हैं।

Courtesy: nationaldastak

Categories: India

Related Articles