महिला आईपीएस ने विधायक के आरोपों पर दिया करारा जवाब, बैकफुट पर भाजपा

महिला आईपीएस ने विधायक के आरोपों पर दिया करारा जवाब, बैकफुट पर भाजपा

गोरखपुर। भाजपा विधायक डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल की तरफ से गर्भवती महिला को पीटने के आरोपों का बुधवार को महिला आईपीएस अफसर चारु निगम ने करारा जवाब दिया। चारु ने विधायक का नाम लिए बगैर अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा कि गर्भवती महिला को पीटे जाने की खबर कभी मीडिया से छिपी है क्या? लाठीचार्ज की खबर भी मीडिया में नहीं आई, ऐसे में गर्भवती महिला को पीटने और लाठीचार्ज के आरोप मनगढ़ंत लगते हैं। इससे पहले भी महिला आईपीएस ने फेसबुक पर अपना दर्द बयां किया था। कहा था कि उनके आंसुओं को कमजोरी न समझा जाए। वह मजबूत इरादों वाली अफसर हैं।

 
बता दें कि चिलुआताल के कोईलहवा में शराब की दुकान बंद कराने को लेकर रविवार को बवाल हुआ था। इस दौरान भाजपा के नगर विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल ने महिला आईपीएस अफसर को बुरी तरह डांट लगाई थी। जिसके बाद वह रो पड़ीं थी।  बाद में छह महिलाओं को नामजद करने के साथ ही 50 अज्ञात महिलाओं के खिलाफ एफआईआर करा दी गई। इसके बाद भाजपा विधायक ने गोरखपुर प्रेस क्लब में प्रेस कांफ्रेंस की। विधायक ने आईपीएस अफसर पर गर्भवती महिलाओं को पीटने का आरोप मढ़ा।

 

विधायक ने कहा कि लाठीचार्ज भी हुआ था। इसका सीधा जवाब महिला आईपीएस अफसर ने बुधवार को फेसबुक पेज पर दिया। चारु ने फेसबुक के जरिए विधायक के आरोपों पर कटाक्ष करते हुए प्रेग्नेंट लेडी और बच्चों पर लाठीचार्ज को बेतुका बताय्रा। बोलीं कि ऐसा कभी हुआ है क्या कि कहीं पर लाठीचार्ज हो, गर्भवती को पीटा जाए और मीडिया चुप रहे। यह आरोप निराधार और मनगढ़ंत है। किसी को पीटा नहीं गया था। जिन लोगों ने सड़क जाम किया था, उन्हें हटाने की कोशिश हुई और वे लोग हमलावर हो गए। बहरहाल, महिला आईपीएस के फेसबुक पोस्ट पर तरह-तरह के कमेंट भी आ रहे हैं। तमाम लोग महिला अफसर के स्टैंड को सही ठहरा रहे हैं। कुछ विधायक को सही बता रहे हैं।

शराब की दुकान हटाने की मांग लेकर सड़क जाम करने वाले आरोपियों की जांच पुलिस ने तेज कर दी है। सोमवार और मंगलवार की देर रात पुलिस ने आरोपियों की तलाश में दबिश डाली है। बुधवार को भी आरोपियों की तलाश की गई। पुलिस की कार्रवाई से ग्रामीण घर छोड़कर रिश्तेदारों के यहां शरण लेने लगे हैं। हालांकि पुलिस अभी दबिश की बात से इंकार कर रही है। पुलिस आरोपियों के जल्द गिरफ्तारी का भी दावा कर रही है।
महिला आईपीएस चारु निगम और विधायक डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल के बीच पनपा विवाद तूल पकड़ता जा रहा है। एक तरफ जहां विधायक अवैध शराब दुकान के खिलाफ धरने की तैयारी में हैं तो वहीं दूसरी ओर महिला आईपीएस फेसबुक पर हमलावर हैं।

महिला आईपीएस अफसर के खिलाफ नगर विधायक डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल के तेवर से भाजपा बैकफुट पर है। क्षेत्रीय, महानगर और जिला इकाई के पदाधिकारी मामले में खुलकर बोलने से बच रहे हैं।

Courtesy: .nationaldastak.

Categories: Politics

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*