कपिल मिश्रा के आरोपों की खुल गई पोल, AAP को 2 करोड़ का चंदा देने वाला सामने आया

कपिल मिश्रा के आरोपों की खुल गई पोल, AAP को 2 करोड़ का चंदा देने वाला सामने आया

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी की सदस्यता से निष्कासित दिल्ली सरकार के जल मंत्री कपिल मिश्रा ने हाल ही में आम आदमी पार्टी की 2 करोड़ फंडिंग को लेकर सवाल उठाए थे। लेकिन अब उनके आरोपों की हवा निकलती दिखाई दे रही है।  आप को चंदा देने वाला शख्स पहली बार मीडिया के सामने आया है।

 
एक टेलीविजन चैनल से बातचीत करते हुए मुकेश शर्मा नाम के व्यक्ति ने बताया कि  ये चारों कंपनियां जिनके नाम से आम आदमी पार्टी को 2 करोड़ रुपये का चंदा अप्रैल 2014 में मिला है वह कंपनियां फ़र्ज़ी नहीं हैं, बल्कि वो चारों कंपनियां उसकी अपनी हैं। मुकेश उत्तर पूर्वी दिल्ली के गंगा विहार में रहते हैं।

 
मुकेश शर्मा ने कहा, ”ये चारों कंपनियां मेरी हैं। मैंने ‘आप’ को 2 करोड़ का चंदा दिया था। मैंने डिमांड ड्राफ़्ट बनवाकर चंदा दिया था।” मुकेश शर्मा ने बताया कि वह राजनीतिक पचड़े में नहीं पड़ना चाहते थे इसलिए जब यह मामला दो साल पहले उठा तब मीडिया के सामने नहीं आए।

 
उन्होने बताया कि मैं अरविंद केजरीवाल को नहीं जानता न उनसे मिला केवल चंदा देते समय पार्टी के सेक्रेटरी पंकज गुप्ता और खजांची संजू से मिला था। मैंने इसलिए चंदा दिया क्योंकि मुझे लगता था कि ये राजनीति में कुछ अच्छा करने आए हैं।

 
जब उनसे पूछा गया कि जब दो साल पहले यह मामला उठा था तब इन कंपनियों के पते पर जब रिपोर्टर जा रहे थे तो इसमें कोई नहीं मिल रहा था इसलिए इन कंपनियों के फर्जी होने का शक हुआ? तो मुकेश शर्मा ने बताया कि पहली बार इस तरह का कोई विवाद हुआ था तो हम इसमें पड़ना नहीं चाहते थे। इसलिए हमने उन जगहों पर कहा था कि कोई भी आए मना कर देना। इसलिए किसी को कुछ नहीं मिला, लेकिन अब 4 में से 3 कंपनी करावल नगर  और एक अलीपुर नरेला में रजिस्टर्ड हैं।

 
मुकेश ने बताया कि उनकी ये कंपनियां क़र्ज़ लेने-देने या जमीन की खरीद-फरोख्त का काम करती हैं और बीते दो साल से उनकी 4 कंपनी Sky line metal & alloy Pvt LTD,Sunvision agencies Pvt LTD,Infolense software solutions LTD,Goldmine & buildcon Pvt LTD की जांच जारी है।

 

 

आपको बता दें कि कपिल मिश्रा और उनके सहयोगी ने आम आदमी पार्टी पर फ़र्ज़ी कंपनियों से 2 करोड़ का चंदा लेने का आरोप लगाया था और इस मामले में अभी तक कुछ सामने नहीं आ रहा था, न कंपनी का ही कोई अता-पता मिल रहा था, लेकिन यह पहली बार है कि किसी ने सामने आकर कहा है कि कंपनियां असली हैं और चंदा उसने दिया है।

Courtesy: nationaldastak.

Categories: India

Related Articles