CBSE का रिजल्ट न आने से स्टूडेंट परेशान, कॉलेज एडमिशन में देरी का डर

CBSE का रिजल्ट न आने से स्टूडेंट परेशान, कॉलेज एडमिशन में देरी का डर

सीबीएसई 12वीं बोर्ड की परीक्षा के परिणामों की घोषणा को लेकर स्थिति साफ ने होने से विद्यार्थियों को चिंताएं बढ़ा गई हैं. बच्चे और उनके माता-पिता ​रिजल्ट का इंतजार कर रहे हैं लेकिन मॉडरेशन पॉलिसी को लेकर भ्रम की स्थिति के चलते सीबीएसई परिक्षा परिणामों को लेकर चुप बैठा है.

इस बीच, देश से विद्यार्थी अपने भविष्य को लेकर परेशान हैं. न्यूज18  के मुताबिक केंद्रीय विद्यालय डीआरडीओ, बेंगलुरु की छात्रा गायत्री यू ने कहा, ‘इसने हमें और परेशान कर दिया है. कॉलेज एडमिशन में देरी होगी और ये समस्या बनेगा.’

बार-बार पूछ रहे हैं घरवाले
वहीं, एक दूसरी छात्रा नित्या बी का कहना है कि जब रिजल्ट टल जाते हैं तो आपकी चिंताएं बढ़ जाती हैं. अब प्री-यूनिवर्सिटी के परिणाम आ चुके हैं, उन्हें अच्छी सीटें मिलेंगी. लेकिन सीबीएसई के विद्यार्थियों को नहीं. दिल्ली के मयूर विहार फेज-3 के रेयान इंटरनेशनल की अथिरा मेनन ने बताया, ‘इसने मुझे और बैचेन कर दिया है. घरवाले बार-बार परिणाम के बारे में पूछ रहे हैं.’

बता दें कि दिल्ली हाई कोर्ट ने मंगलवार को सीबीएसई को निर्देश दिए थे कि इस साल के लिए मॉडरेशन पॉलिसी को बनाए रखा जाए और अगले साल से बोर्ड इसे हटा सकता है. मयूर विहार फेज-3 के सेंट मेरी सीनियर सेकेंड्री स्कूल के टॉम थॉमस ने भी माना कि घरवालों, रिश्तेदारों और यहां तक कि जिन्हें हम नहीं जानते उनकी तरफ से बहुत ज्यादा दबाव है.

हालांकि, बुधवार सुबह न्यूज18 हिंदी से बातचीत में सीबीएसई की प्रवक्ता रमा शर्मा ने बताया कि अभी तक नतीजों के बारे में कोई घोषणा नहीं की गई है. हालांकि, जल्द ही कोई घोषणा की जाएगी.

Courtesy: News18

Categories: India

Related Articles