शर्मनाक: योगी सरकार की पुलिस को महिलाओं ने चप्पल लेकर खदेड़ा

शर्मनाक: योगी सरकार की पुलिस को महिलाओं ने चप्पल लेकर खदेड़ा

सहारनपुर। यूपी के बागपत जिले के गांव हिसावदा से लापता बच्चे फैजान का शव गांव में तालाब के किनारे पड़ा मिला। उसका हाथ-पैर और कान काटकर बेरहमी से हत्या की गई थी। मौके पर पहुंची पुलिस को नाराज महिलाओं ने चप्पल लेकर खदेड़ दिया। लोगों का आरोप है कि अगर पुलिस पहले चेत लेती तो शायद फैजान बच जाता।
फैजान गांव हिसावदा निवासी मेहरदीन का पुत्र था और 21 मई को घर के बाहर से खेलते समय लापता हो गया था। परिवार की ओर से सिंहावली अहीर थाने में फैजान के अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया गया था। गुरुवार को सुबह फैजान का शव गांव के तालाब के किनारे पड़ा मिला। शव को एक जानवर नोच रहा था। जिसके बाद लोगों का गुस्सा फूट पड़ा।
शव बरामद होते ही ग्रामीण सड़क पर उतर आए। पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। नाराज महिलाओं ने पुलिस को चप्पलें दिखाईं और पीछे भी दौड़ीं, लेकिन बीच में गांव के गणमान्य लोगों ने पड़कर किसी तरह मामले को संभाल लिया। ग्रामीणों ने कहा फैजान की जान पुलिस के एक अफसर की लापरवाही से गई है।
दरअसल, मासूम के लापता होते ही परिजनों ने तंत्र मंत्र का आरोप लगाकर एक महिला पर शक जताया था, लेकिन पुलिस नहीं जागी। पुलिस ने आरोपी महिला से पूछताछ करने की भी जरूरत नहीं समझी। उल्टा पुलिस ने उनके साथ ही बदसलूकी की। गाली-गलौज कर थाने से भगा दिया। उन्होंने कहा यदि पुलिस समय से कार्रवाई करती तो शायद बच्चे की जान न जाती।
इस बीच पुलिस के उच्चाधिकरियों ने संबंधित अफसर को तुरंत मौके से अलग भेज दिया। पुलिस अब मामले की जांच में जुटी है। पीड़ितों ने कहा आरोपी महिला गांव में पहले भी एक बच्चे की हत्या करने का प्रयास कर चुकी है, लेकिन उस समय उसको देख लिया था। आरोपी महिला लंबे समय से तांत्रिक क्रिया करती है ।
वहीं वारदात के बाद महिला तांत्रिक से पुलिस अफसर पूछताछ कर रहे हैं, लेकिन उसने घटना के संबंध में कोई जानकारी नहीं दी। पुलिस के मुताबिक उसका कहना है कि केस में उसे साजिश के तहत फंसाया जा रहा है।

Courtesy:

Categories: Politics

Related Articles