अश्वनी ने ही मारा था गर्लफ्रेंड को, अंजली की हत्या के पीछे बताई असली कहानी

अश्वनी ने ही मारा था गर्लफ्रेंड को, अंजली की हत्या के पीछे बताई असली कहानी

नोएडा  नोएडा के 62 सेक्टर में अंजली राठौर को गोली मारने वाले आरोपी अश्वनी यादव ने गिरफ्तारी के बाद पुलिस पूछताछ में खुलासा किया है कि वह अंजली की बेरुखी से दुखी था। यही वजह है कि उसने अंजली को मार डाला। नोएडा पुलिस ने उसे मैनपुरी से गिरफ्तार किया है। आरोपी से पूछताछ चल रही है।

नोएडा पुलिस की मानें तो अश्वनी और अंजली में पिछले चार साल यानी वर्ष 2012 से ही दोस्ती थी। इसी साल मार्च महीने में दोनों में किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ। दोनों के बीच दूरी इतनी ज्यादा बढ़ गई कि बातचीत ही बंद हो गई।

इसी दौरान अंजली की दोस्ती किसी और से हो गई। यह बात अश्वनी को नागवार गुजरी। अश्वनी की मानें तो इसी कारण से आरोपी यादव ने अंजली को गोली मार दी।

बता दें कि मूल रूप से यमुना नगर (हरियाणा) की रहने वाली अंजली नोएडा में मोबाइल हैंडसेट बनाने वाली कंपनी लावा में काम करती थी।

ऐसे पकड़ा गया अश्वनी

अंजली राठौर की हत्या के बाद से ही पुलिस हरकत में आ गई थी। पुलिस की जांच में एक सदिंग्ध का नाम सामने आ रहा था, जिसने हत्या से पहली अंजली को आखरी बार फोन किया था। आरोपी मृतका के साथ कॉलेज में पढ़ता था।

पुलिस को तफ्तीश के दौरान पता चला कि अंजली को लास्ट काल करने वाला शख्स और इस हत्याकांड का प्राइम सस्पेक्ट अश्विनी यादव नाम का युवक है। अश्विनी इटावा जिले का रहने वाला है।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Crime