PAK ने LoC पर मोर्टार दागे; कश्मीर में 4 घंटे में 6 आतंकी हमले, 13 जवान जख्मी

श्रीनगर.पाकिस्तान ने बुधवार सुबह फिर सीजफायर वॉयलेशन किया। एलओसी के पास बिमबेर गली सेक्टर में मोर्टार दागे। इससे पहले, मंगलवार को कश्मीर में एक दिन के भीतर सीआरपीएफ, पुलिस और सेना पर आतंकियों ने 6 हमले किए। इन हमलों में 13 जवान जख्मी हो गए। इनमें से चार साउथ और दो नॉर्थ कश्मीर में किए गए। ये सभी हमले चार घंटे के अंतराल में किए गए। वहीं, अनंतनाग में दो पुलिसवालों से हथियार छीन लिए गए। बता दें कि सोमवार और रविवार को सीआरपीएफ पर ग्रेनेड से अटैक किया गया था। इन हमलों में 6 जवान घायल हुए थे।यहां हुए हमले
1# त्राल (पुलवामा)

– पुलवामा के त्राल में CRPF कैम्प पर टेररिस्ट ने ग्रेनेड अटैक किया। अधिकारियों के मुताबिक, ग्रेनेड कैम्प के भीतर फेंका गया था। इस हमले में 10 जवान घायल हुए हैं।

2# पद्गमपोरा (पुलवामा)
– पुलवामा के ही पद्गमपोरा इलाके में CRPF की कंपनी पर ग्रेनेड अटैक किया गया। कंपनी पर मोटरसाइकिल से जा रहे टेररिस्ट ने अटैक किया। इस हमले में कोई जवान घायल नहीं हुआ है।

3# पुलिस स्टेशन (पुलवामा)
– पुलवामा में एक पुलिस स्टेशन पर टेररिस्ट ने ग्रेनेड से अटैक किया। यहां किसी के घायल होने की फिलहाल कोई खबर नहीं है।

4# सरनाल (पहलगाम)
– पहलगाम के सरनाल में CRPF कैम्प पर ग्रेनेड से अटैक किया गया। यहां से भी अभी ज्यादा जानकारी नहीं मिल पाई है।

5# पजलपोरा (सोपोर)
– नॉर्थ कश्मीर के सोपोर के पजलपोरा में टेररिस्ट ने 22 राष्ट्रीय राइफल्स के आर्मी कैम्प पर फायरिंग शुरू कर दी। सेना की जवाबी कार्रवाई के बाद आतंकी भाग निकले।

6# अनंतनाग

– यहां आंचीदोरा इलाके में रिटायर्ड जज मो. अतहर के घर के सामने दो पुलिसवालों पर हमला कर उनके हथियार छीने गए। दोनों पुलिसकर्मी घायल हैं।

अमरनाथ यात्रा से जुड़े हमले?

– एक दिन के भीतर 6 आतंकी हमलों को अमरनाथ यात्रा से भी जोड़कर देखा जा रहा है। अमरनाथ यात्रा 29 जून से शुरू हो रही है, जो पहलगाम और बालटाल के रास्ते पूरी की जाएगी। पहलगाम उन इलाकों में है, जहां प्रोटेस्ट और आतंकी हमले पिछले कुछ वक्त से काफी तेज रहे हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक अमरनाथ यात्रा के दौरान 30 हजार से ज्यादा पैरा मिलिट्री फोर्सेस को तैनात किया जाएगा।

5 जून को भी हुआ था हमला

– इस दौरान सिक्युरिटी फोर्सेस ने मुस्तैदी दिखाते हुए 4 आतंकियों को मार गिराया था।
– होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह ने कहा कि आतंकी लंबे वक्त तक जवानों को बंधक बनाकर ज्यादा नुकसान पहुंचाना चाहते थे। फिदायीन आतंकियों के पास से 4 एके-47 राइफल्स, एक ग्रेनेड लॉन्चर, काफी तादाद में गोला-बारूद, पेट्रोल और ड्राय फ्रूट्स भी मिले थे।

3 जून को आर्मी के काफिले पर हमला
– 3 जून को भी अनंतनाग में आर्मी के काफिले पर आतंकवादियों ने अटैक किया था। इस हमले में दो जवान शहीद हुए थे।
– आर्मी अफसर के मुताबिक, आर्मी के काफिले पर फायरिंग काजीकुंड इलाके की लोअर मुंडा पोस्ट पर हुई। ये श्रीनगर से 100 किमी दूर है। फायरिंग में 6 जवान जख्मी हो गए। उन्हें तुरंत आर्मी के 92 बेस हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान 2 जवान शहीद हो गए।

7 दिनों में सेना ने 16 टेररिस्ट्स को ढेर किया
– न्यूज एजेंसी को सोर्सेस ने बताया कि पिछले 7 दिनों के दौरान सेना ने 16 टेररिस्ट्स मार गिराए हैं। ये आतंकवादी घाटी में आतंक और अशांति फैलाने की साजिश कर रहे थे।
– इंडियन आर्मी ने भी 10 जून को ट्वीट किया, “Loc के गुरेज, माछिल, नौगाम, उड़ी सेक्टर, नॉर्दर्न कमांड में 93 घंटों के भीतर 13 आतंकी मारे गए।”

Courtesy: Bhaskar

 

Categories: India

Related Articles