अनिल कुंबले के बाद कोच पद के 5 हैं दावेदार, लेकिन ये हैं विराट कोहली और BCCI की पसंद!

अनिल कुंबले के बाद कोच पद के 5 हैं दावेदार, लेकिन ये हैं विराट कोहली और BCCI की पसंद!
नई दिल्ली: टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली और कोच अनिल कुंबले के बीच तनातनी का परिणाम मंगलवार को कुंबले के इस्तीफे के रूप में सामने आया. अब बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति को जल्द ही टीम के लिए नया कोच तलाशना होगा. हालांकि बोर्ड ने इसके लिए आवेदन पहले ही मंगा लिए हैं, लेकिन देखने वाली बात होगी कि सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और वीवीएस लक्ष्मण की समिति प्राप्त आवेदनों में से ही किसी एक को चुनती है या फिर एक बार फिर लीक से हटकर फैसला लेगी. हम आपको टीम इंडिया के कोच पद के लिए आए 5 आवेदकों और प्रमुख दावेदारों के साथ ही कप्तान विराट कोहली और बीसीसीआई की संभावित पसंद के बारे में बताने जा रहे हैं…

टीम इंडिया के कोच पद के लिए वीरेंद्र सहवाग, टॉम मूडी, लालचंद राजपूत, डोडा गणेश और रिचर्ड पायबस ने आवेदन किए हैं. हालांकि कप्तान विराट कोहली की संभावित पसंद के बारे में बात करें, तो माना जा रहा है कि इनमें से कोई भी उनकी लिस्ट में नहीं है.

ये पूर्व खिलाड़ी है विराट की पसंद!
मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो कप्तन विराट कोहली की पहली पसंद टीम इंडिया के पूर्व डायरेक्टर रवि शास्त्री हैं. वास्तव में विराट कोहली को कप्तानी दिए जाने के समर्थकों में भी शास्त्री सबसे आगे थे और दोनों की ट्यूनिंग का काफी अच्छी थी. माना जाता है कि जब अनिल कुंबले को कोच के लिए शास्त्री पर तरजीह दी गई थी, तो उस समय भी कोहली इसके लिए तैयार नहीं थे और वह शास्त्री को ही चाहते थे, लेकिन सौरव गांगुली ने शास्त्री को किनारे कर दिया था और इस पर काफी विवाद भी हुआ था. खबरों के अनुसार 23 मई को चैंपियंस ट्रॉफी के लिए टीम इंडिया के इंग्लैंड रवाना होने से पहले कोहली ने सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण से मिलकर रवि शास्त्री के नाम पर विचार करने की बात कही थी.

ये हैं BCCI की पसंद..
विराट कोहली से अलग बीसीसीआई की पसंद अंडर-19 टीम और भारत-ए के कोच राहुल द्रविड़ माने जा रहे हैं. गौरतलब है कि कुंबले के चयन से पहले भी द्रविड़ से बात की गई थी, लेकिन उन्होंने मना कर दिया था.

5 आवेदकों में ये हैं आगे…

नंबर वन- वीरेंद्र सहवाग
कुंबले के इस्तीफे के बाद टीम इंडिया के विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग आवेदकों के बीच सबसे आगे माने जा रहे हैं. खबर है कि सौरव गांगुली, सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) के कहने पर ही सहवाग ने इसके लिए आवेदन किया था. हालांकि उनके पास कोचिंग का अनुभव नहीं है, लेकिन कुंबले को भी कुछ ऐसे ही चुना गया था.

नंबर टू- टॉम मूडी
ऑस्ट्रेलिया के टॉम मूडी कई साल से इसके लिए आवेदन कर रहे हैं, लेकिन हर बार वह पीछे रह जाते हैं. उनको काफी शांत स्वभाव का माना जाता है और उनका मिजाज टीम इंडिया के पूर्व कोच गैरी कर्स्टन से मिलता-जुलता है. साल 2005 में जब उन्होंने आवेदन किया था तो ग्रेग चैपल को यह पद सौंप दिया गया था, जबकि साल 2016 में अनिल कुंबले को उन पर वरीयता दे दी गई. हालांकि वह रेस में दूसरे नंबर पर थे और समिति उनसे प्रभावित भी थी. मूडी ने कोच के रूप में श्रीलंका क्रिकेट टीम को 2007 के वर्ल्ड कप में फाइनल तक पहुंचाया और 2016 में हैदराबाद सनराइज़र्स को आईपीएल का खिताब दिलवाया है.

नंबर थ्री- रिचर्ड पायबस
रिचर्ड पायबस के पास कोचिंग का लंबा अनुभव है. उन्होंने हर तरह की टीमों को कोचिंग दी है. उनको आला दर्जे का रणनीतिकार माना जाता है. उनको एशियाई टीम पाकिस्तान को कोचिंग देने का अनुभव भी है. वह इसके दो बार कोच रह चुके हैं. उनकी कोचिंग में पाकिस्तान टीम 1999 वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंची थी.

नंबर फोर – लालचंद राजपूत
राजपूत लंबे समय से कोचिंग के फील्ड में सक्रिय हैं. लालचंद राजपूत उस समय चर्चा में आए थे, जब टीम इंडिया ने उनके मैनेजर रहते एमएस धोनी के नेतृत्व में साल 2007 का पहला टी-20 वर्ल्ड कप जीता था. राजपूत इंडिया अंडर-19 और इंडिया-ए को भी कोचिंग दे चुके हैं.

नंबर फाइव- डोडा गणेश
तेज गेंदबाज रहे डोडा गणेश ने भारत के लिए चार टेस्ट मैच और एक वनडे खेला है. उनके पास साल 2012 से 2016 तक गोवा क्रिकेट टीम को कोचिंग देने का अनुभव है. हालांकि उनकी संभावनाएं न के बराबर हैं.

 Courtesy:NDTV
Categories: Sports

Related Articles