आरएसएस ने शुरु किया पोस्ट डिप्लोमा कोर्स, ढाई लाख की फीस से 9 महीने में नेता बनाएंगे

नई दिल्ली। भाजपा का सहयोगी सगंठन माने जाने वाले राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ अब नेता बनाने के लिए पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्स कराएगा। संघ की संस्था रामभाऊ म्हालगी प्रबोधिनी ने पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्स शुरू करने का ऐलान किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर नितिन गडकरी जैसे कई नेता संघ की पाठशाला से ही पढ़कर आए हैं। इन नेताओं की सफलता के बाद अब आरएसएस नेता बनाने की स्कूल खोलने जा रहा है।

 

खबर के अनुसार नौ माह के इस कोर्स की फीस ढाई लाख रुपये होगी। इसके लिए न्यूनतम योग्यता स्नातक होगी। पहले बैच में 40 सीटें होंगी। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इसकी विधिवत शुरुआत की।

उद्घाटन के मौके पर एचआरडी मिनिस्टर जावड़ेकर ने कहा कि इससे देश में राजनीतिक क्षेत्र में नए और बेहतर लोग सामने आएंगे। उन्होंने कहा देश में यह चर्चा होती है कि राजनीति में अच्छे लोग नहीं आ रहे हैं। नई पीढ़ी राजनीति से भाग रही है। ऐसे में यह पहल देश की राजनीति के लिए अच्छी साबित होगी। नए व युवा प्रतिभावान राजनेता उभर सकेंगे।

 

नौ माह के इस कोर्स के दौरान छात्रों को संस्थान में ही रहना होगा। इसमें हॉस्टल, वाईफाई, जिम समेत अन्य सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। राजनेताओं, नौकरशाहों, समाजसेवियों, विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञों के समय-समय पर भाषण होंगे। एसी कक्षाओं में ऑडियो-वीडियो की सुविधा भी रहेगी। संघ की विचारधारा से जुड़ा यह संस्थान पहले से भाजपा नेताओं को समय-समय पर विशेष प्रशिक्षण देता रहा है। भाजपा मंत्रियों के स्टाफ को भी संस्थान ने प्रशिक्षण दिया था।

Courtesy: nationaldastak.

 

Categories: India

Related Articles