भाजपा नेता ने ग्राम विकास अधिकारी को बेल्ट से पीटा, थाने पहुंचा मामला

भाजपा नेता ने ग्राम विकास अधिकारी को बेल्ट से पीटा, थाने पहुंचा मामला

अमरोहा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री कानून हाथ में न लेने की बात को कई मौकों पर दोहराते  हैं लेकिन यहां भाजपा नेता सरेआम गुंडागर्दी पर उतर आए हैं। यहां भाजपा नेता ने परिवार रजिस्टर में बच्ची का नाम नहीं दर्ज करने पर ग्राम विकास अधिकारी की पिटाई कर दी। इस दौरान जमकर बेल्ट भी चली। जिसके बाद ब्लॉक परिसर में भगदड़ मच गई। पीड़ित ग्राम विकास अधिकारी ने शहर कोतवाली में भाजपा नेता के खिलाफ तहरीर दे दी है।

 

देहात थाना क्षेत्र के गांव नोरान निवासी हरपाल सिंह भाजपा के धनोरा विधानसभा प्रभारी हैं। मंगलवार को हरपाल सिंह ने ग्राम विकास अधिकारी योगेंद्र सिंह से फोन करके परिवार रजिस्टर में बच्ची का नाम दर्ज करने के लिए कहा था। जिसको लेकर भाजपा नेता और ग्राम विकास अधिकारी के बीच फोन पर ही गाली गलौच हुई, एक दूसरे को देखने तक कि धमकी देने लगे।

इसके बाद भाजपा नेता खुद ही ब्लॉक पहुंच गए और ग्राम विकास अधिकारी से परिवार रजिस्टर में एक बच्चे का नाम दर्ज करने के लिए कहा, लेकिन सेक्रेटरी ने नाम दर्ज करने से मना कर दिया। फिर नेता जी के गुस्से का ठिकाना ना रहा और सेक्रेटरी की पिटाई कर दी। देखते ही देखते बेल्ट से पिटाई की गई। जिसके बाद ब्लॉक परिषर अखाड़ा बन गया। ग्राम विकास अधिकारी भी मामले को बढ़ता देख कार्यालय छोड़ कर चलते बने। पीड़ित सेक्रेटरी साथियों के साथ कोतवाली पहुंचे। आरोपी भाजपा नेता के खिलाफ तहरीर दी।

 

परिवार रजिस्टर में नाम दर्ज न करने को लेकर भाजपा नेता और ग्राम विकास अधिकारी के बीच हुई मारपीट के बाद भाजपा नेता भी सेक्रेटरी के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर कोतवाली पहुंच गए। धनोरा विधानसभा प्रभारी हरपाल सिंह ने आरोप लगाया कि कि उन्होंने फोन करके सेक्रेटरी से परिवार रजिस्टर में एक बच्चे का नाम दर्ज कराने के लिए कहा था, लेकिन सेक्रेटरी 1000 रुपए की मांग करने लगा।

 Courtesy: nationaldastak
Categories: Politics

Related Articles