49 यात्रियों की जान बचाने वाले ड्राइवर सलीम की बीवी बोली- आतंकी करते रहें हमला, मेरे पति अमरनाथ जाते रहेंगे

49 यात्रियों की जान बचाने वाले ड्राइवर सलीम की बीवी बोली- आतंकी करते रहें हमला, मेरे पति अमरनाथ जाते रहेंगे

जम्मू कश्मीर में अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले (10 जुलाई) में सात श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी। श्रद्धालु एक बस में सवार थे जिस पर आतंकियों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी। वहीं बस ड्राइवर सलीम अमरनाथ यात्रियों की जान बचाकर देश के हीरो बन गए हैं। अपनी हिम्मत और समझदारी से वह बस को आतंकियों से दूर ले गए। अगर समय रहते वह ऐसा नहीं करते तो शायद हमले में मरने वाले श्रद्धालुओं की संख्या और ज्यादा होती या फिर वह खुद ही आतंकियों की गोलियों के शिकार हो जाते। सलीम की इस बहादुरी पर न सिर्फ उनके परिवार को बल्कि पूरे देश को गर्व है। इसी बीच सलीम और उनके परिजनों ने कहा है कि वह अमरनाथ यात्रा पर श्रद्धालुओं को हमेशा लेकर जाते रहेंगे।

सलीम की पत्नी ने कहा, “मेरे पति ने अनेक अमरनाथ श्रद्धालुओं की जान बचाई है, मुझे इस पर गर्व है। भले ही और हमले होते रहें, मैं तब भी उन्हें अमरनाथ, यात्रियों के साथ भेजूंगी।” सलीम का परिवार महाराष्ट्र के पीपलखेड़ा का रहने वाला है। खबरों के मुताबिक इस परिवार का कोई न कोई सदस्य पिछले 15 सालों से श्रद्धालुओं को अमरनाथ यात्रा के लिए लेकर जाता रहा है। वहीं सलीम के पिता ने भी कहा कि उन्हें अपने बेटे पर गर्व है। उन्होंने कहा, “भारत में हिंदू-मुस्लिम सद्भाव से रहते हैं। एक-दूसरे की मदद के लिए तत्पर रहते हैं। वह गद्दार हैं जो धर्म-संप्रदाय और कौम के नाम पर दोनों समुदायों को बांटना चाहते हैं, दरार पैदा करने की कोशिश करते हैं।”

Courtesy:Jansatta 

Categories: India

Related Articles

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*