गुजरात के बाद भाजपा शासित राजस्थान में दलित लड़कियों को मंदिर में जाने से रोका

गुजरात के बाद भाजपा शासित राजस्थान में दलित लड़कियों को मंदिर में जाने से रोका

कोटा। भाजपा शासित राजस्थान के कोटा के एक मंदिर में जातिवादी लोगों द्वारा दलित लड़कियों को पूजा करने से रोकने की खबर आई है। जिसके बाद वहां पर विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई। जब लड़कियों के परिजनों को इसकी जानकारी हुई तो उन्होंने पुलिस में शिकायत दी। जिसके बाद पुलिस सुरक्षा में इन लड़कियों ने मंदिर में पूजा अर्चना की।

खास बातें-

  1. गुजरात के बाद राजस्थान में दलित लड़कियों में मंदिर में प्रवेश से रोका
  2. एक दिन पहले ही गुजरात में दलित लड़कियों को प्रवेश से रोका था
  3. राजस्थान के कोटा में रोका गया दलित लड़कियों को
  4. दलित समाज ने थाने में दर्ज कराई रिपोर्ट

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, महावीर नगर विस्तार योजना स्थित रामेश्वरम् महादेव मंदिर में सोमवार को कुछ दलित बालिकाओं को पूजन करने से रोक दिया गया। जब विवाद की स्थिति उत्पन्न हो गई तो पुलिस बुलाई गई। बाद में पुलिस की मौजूदगी में बालिकाओं को पूजन कराया। दलित समाज के लोगों ने थाने में रिपोर्ट देकर अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

स्थानीय थानाधिकारी प्रमोद शर्मा ने बताया कि सावन के पहले सोमवार पर दलित समाज की 3-4 बालिकाएं भगवान शिव का पूजन करने गईं थी। उस समय वहां अन्य महिलाएं व लोग पूजा अर्चना कर रहे थे। जब दलित समाज कि लड़कियों ने पूजा करना चाहा तो उन्हें पूजा करने से रोक दिया गया। इस पर लड़कियां अपने घर गईं और घटना की जानकारी परिजनों को दी।

जिसके बार परिजन उन्हें लेकर थाने पहुंचे। वहां से महिला पुलिसकर्मियों के साथ बालिकाओं को पुन: मंदिर भेजा गया। पूछताछ करने पर वहां किसी ने भी ऐसा करने से मना कर दिया। इसके बाद पुलिस की मौजूदगी में दलित लड़कियों ने पूजा की। शाम को पुन: दलित समाज के लोग थाने पहुंचे। उन्होंने इसे दलित समाज का अपमान बताकर मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

 

वहीं सीआई ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। महिला पुजारी ने बताया कि मंदिर में निर्माण कार्य चल रहा है, उस समय कई बच्चे आए तो उन्हें रोका था, लेकिन किसी तरह का कोई गलत दृष्टिकोण नहीं था।

सभी जानते हैं कि भाजपा शासित राज्यों में दलितों से छुआछूत, अत्याचार, भेदभाव आम हैं। कहीं दलितों को कुएं से पानी नहीं पीने दिया जाता तो कहीं मंदिरों में जाने नहीं दिया जाता। एक दिन पहले ही खबर आई थी कि गुजरात में दलित लड़कियों के मंदिर में प्रवेश करने पर पुजारी ने लड़कियों को धक्का देकर भगा दिया था, यही नहीं जब लड़कियों के पिता ने शिकायत करनी चाही तो पुजारी के बेटे ने जातिवादी गाली देकर धमकी दी थी। ऐसी खबरें भाजपा सरकारों पर सवाल खड़ा करती हैं।

Courtesy: nationaldastak.

Categories: India

Related Articles