पीएम मोदी के आंसू भी हुए तोगड़िया के सामने बेअसर, कहा-गोसेवा रूकनी नहीं चाहिए

पीएम मोदी के आंसू भी हुए तोगड़िया के सामने बेअसर, कहा-गोसेवा रूकनी नहीं चाहिए

आगरा। 28 जून 2017 को दिल्ली के जंतर मंतर पर ‘नॉट इन माय नेम’ की तख्ती के साथ तमाम लोगों ने मॉब लिंचिंग के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।जिसमें कई वरिष्ठ पत्रकार और बुद्धिजीवी शामिल हुए। इसके अगले ही दिन यानी 29 जून को प्रधानमंत्री मोदी ने गुजरात के साबरमती से भावुक होकर गोरक्षकों से अपील की थी कि कानून हाथ में न लें।

मुख्य बातेंः- 

  1. प्रवीन तोगड़िया ने कहा ‘हमें चाहिए हिंदू राष्ट्र’
  2. तोगड़िया ने गौरक्षकों से कहा ‘किसी दबाव में आकर डरने की जरूरत नहीं’
  3. प्रधानमंत्री ने भावुक होकर गौरक्षकों से की थी अपील 

लेकिन पीएम के आंसुओं का असर न तो गौरक्षकों पर पड़ा, ना ही गोरक्षा दलों को समर्थन देने वाले संगठन पर। अब विश्व हिंदू परिषद के कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने गौरक्षकों को खुली छूट देते हुए कहा कि उन्हें किसी से डरने की जरूरत नहीं है। उन्होने कहा ‘गौरक्षकों को किसी दबाव में आकर डरने की जरूरत नहीं हैं। वह निरंतर गोमाता की सेवा में लगे रहें।’ तोगड़िया यहीं नहीं रूके उन्होंने सीधे तौर कहा कि ‘हमें हिंदू राष्ट्र चाहिए। ’

 

प्रवीण तोगड़िया ने ये बातें शनिवार को आगरा रोड स्थित सरस्वती शिशु मंदिर में आयोजित विश्व हिंदू परिषद की प्रांतीय बैठक में कही। तोगड़िया दिसंबर तक बजरंग दल के कार्यक्रम में कम से कम दो लाख युवाओं को जोड़ना चाहते हैं। इसके लिए कार्यकर्ताओं को काम पर लगा दिया गया है। तोगड़िया ने कहा कि जिला कमेटी गौरक्षा, गो सेवा को हर इकाई में सक्रिय करने पर जोर दें।

 पत्रकारों से बातचीत के दौरान तोगड़िया ने कहा ‘अलीगढ़ में चल रहीं मीट फैक्ट्रियां बंद कराई जाएंगी। कश्मीर से धारा 370 जल्द हटेगी और अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण भी होगा। कश्मीर घाटी को सेना के हवाले कर पत्थरबाजों को गोली मारने के आदेश दिए जाएं, जिससे वहां के हालात में सुधार आ सके।’
Courtesy: nationaldastak.
Categories: India

Write a Comment

Your e-mail address will not be published.
Required fields are marked*