लखनऊ में TCS रहेगी या नहीं, आज अफसरों की योगी से मीट‍िंग में होगा फैसला

लखनऊ में TCS रहेगी या नहीं, आज अफसरों की योगी से मीट‍िंग में होगा फैसला
लखनऊ (यूपी). यहां टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS) के बंद होने की खबरों के बीच शुक्रवार को सीएम योगी आदित्यनाथ, कंपनी के सीओओ और अन्य अफसरों की मीटिंग होगी। इस मीटिंग में तय होगा कि राजधानी के गोमतीनगर में स्थ‍ित TCS पहले की तरह रहेगी या नहीं। कंपनी वर्कर्स को योगी सरकार की तरफ से पॉजिटिव रेस्पॉन्स की उम्मीद है।टीसीएसऑफिस को दूसरी जगहों पर श‍िफ्ट करने की तैयारी…
– टीसीएस मैनेजमेंट लखनऊ ऑफिस को नोएडा और दूसरी जगहों पर शिफ्ट करने का फरमान यहां काम करने वाले वर्कर्स को सुना चुका है।
– ऐसे में TCS वर्कर्स को उम्मीद है कि सीएम लखनऊ ऑफिस बंद करने के फैसले को रद्द करवाने में कामयाब होंगे। मीटिंग में टीसीएस के सीओओ एनजी सुब्रमण्यम, वीपी हेड आलोक कुमार सहित कई सीनियर अफसर शामिल होंगे।
अखिलेश और रतन टाटा के बीच साइन हुआ था MOU
– कंपनी के आॅफिशियल्स के मुताबिक टाटा कंपनी के प्रमुख रतन टाटा ने दिसंबर 2015 में यूपी दौरे के समय तत्कालीन सीएम   को भरोसा दिलाया था कि राज्य के विकास में टाटा हर संभव मदद करेगी।
– इस दौरान दोनों तरफ के अफसरों ने MOU पर साइन भी किया था। बता दें कि कई वर्कर्स लखनऊ में काम मिलने की वजह से कम सैलरी पर भी टीसीएस में काम करने को तैयार हुए थे। अब उसी पैकेज पर दूसरी जगहों पर जाना उनके लिए बड़ी समस्या है।
2 हजारप्रोफेशनल्सपर संकट
– अगर टीसीएस लखनऊ से शिफ्ट होता है तो यहां काम कर रहे करीब 2 हजार आईटी प्रोफेशनल्स और उनके परिवार के लिए दिक्कतें हो जाएंगी। इस मामले में इससे पहले यहां काम कर रहे वर्कर्स ने यूपी और केंद्र सरकार को लेटर लिखा था।
TCS के अफसरों ने क्या कहा था?
– टीसीएस की HR हेड ने DainikBhaskar.comसे कहा था, “कुछ तो बात है, तभी ये चीजें बाहर आई हैं। कंपनी को कुछ को रखना है, कुछ को निकालना है, ये पूरी तरह से गलत है। हमारे यहां पिछले 4 सालों से यही हो रहा है। इस बार भी यही हुआ है कि करीब 280 लोगों को इंदौर, दिल्ली और मुंबई शिफ्ट होने को कहा गया है। 90 फीसदी लड़के तो शिफ्ट भी हो जाते हैं, दिक्कत लड़कियों के साथ होती है।”
– ”इस वक्त करीब 280 में से 150 से ज्यादा लड़किया हैं। ऐसे में जॉब छोड़ना उनकी मजबूरी है। इस समय यूपी के ज्यादातर सरकारी प्रोजेक्ट हमारे पास हैं। फिर भी मैन पावर की जितनी जरूरत है, उतनी भर्तियां नहीं हो रही हैं।”
वाराणसी में खोलेंगे सेंटर
– टीसीएस की असिस्टेंट जनरल मैनेजर, कॉरपोरेट कम्युनिकेशन हर्षा रामा ने DainikBhaskar.com से बातचीत में कहा था, ”हम अपने यूपी के सभी प्रोजेक्ट को नोएडा के सेंटर पर शिफ्ट कर रहे हैं, क्योंकि लखनऊ से इसे चलाने में कुछ समस्याएं आ रही हैं।”
– “सभी वर्कर्स को ये बता दिया गया है। सभी तैयार भी हैं, बस कुछ लोगों को दिक्कत है। लोग मीडिया में बातों को गलत तरीके से फैला रहे हैं। हम कोई ऑफिस नहीं बंद करने जा रहे हैं। बस लखनऊ का सारा काम अब नोएडा से होगा।”
– “जब सारे वर्कर्स नोएडा शिफ्ट हो जाएंगे तो लखनऊ के ऑफिस का किराया देने का कोई मतलब नहीं है। इसीलिए लखनऊ सेंटर को बंद कर रहे हैं। हम वाराणसी में सेंटर खोलेंगे, लेकिन उसमें अभी टाइम लगेगा।”
1984 में खुला था ऑफिस
– लखनऊ में टीसीएस 1984 से ऑपरेट कर रही है। 1988 तक इसका ऑफिस राणा प्रताप मार्ग पर था। 1988 से 2008 तक ये स्टेशन रोड से ऑपरेट किया जाता रहा। 2008 में इसे गोमतीनगर शिफ्ट कर दिया गया।
Courtesy: Bhaskar.com
Categories: Politics