अनुराग ठाकुर ने नियमों का उल्लंघन कर की लोकसभा की रिकॉर्डिंग, आखिर क्या है मंशा?

अनुराग ठाकुर ने नियमों का उल्लंघन कर की लोकसभा की रिकॉर्डिंग, आखिर क्या है मंशा?

नई दिल्ली। भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने कल लोकसभा में नियमों का उल्लंघन कर शून्य काल के दौरान हंगामें के बीच कथित तौर पर वीडियो रिकॉर्डिंग की थी। इसे लेकर उनकी मंशा पर सवाल उठने लगे हैं। कांग्रेस ने लोकसभा की कार्यवाही की वीडियो रिकॉर्डिंग करने को लेकर अनुराग ठाकुर की मंशा पर सवाल उठाए हैं। कांग्रेस ने लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को पत्र लिखकर अनुराग ठाकुर पर कार्रवाई करने की मांग की है।

खास बातें-

  1. भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर ने की लोकसभा कार्रवाई की रिकॉर्डिंग
  2. सदन की कार्रवाई की की रिकॉर्डिंग नियमों के खिलाफ
  3. हत्यारी भीड़ को लेकर लोकसभा में हो रही थी बहस
  4. बहस के दौरान हंगामे की रिकॉर्डिंग कर रहे थे भाजपा सांसद

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों से देश में हत्यारी भीड़ द्वारा कई लोगों को पीट-पीटकर मार देने की घटनाएं हुई हैं। इसी को लेकर लोकसभा में शून्यकाल के दौरान बहस हो रही थी जिसमें बाद में हंगामा मच गया था। कथित तौर पर इस बीच भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर वीडियो रिकॉर्डिंग कर रहे थे। आपको बता दें कि सदन में कार्यवाहियों की वीडियो रिकॉर्डिंग नियमों के तहत प्रतिबंधित है।

कांग्रेस सांसद केसी वेणुगोपाल ने लोकसभा अध्यक्ष को पत्र लिख भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर पर संसद की कार्यवाही के दौरान विडियोग्राफी के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है। वेणुगोपाल ने आरोप लगाया कि अनुराग ठाकुर ने शून्य काल में संसद की कार्यवाही के दौरान दोपहर बारह से एक बजे के बीच विडियोग्राफी की थी, जो गलत है। इस संबंध में कांग्रेस संसदीय दल ने लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को पत्र लिखकर कार्रवाई की मांग की है।

 लोकसभा अध्यक्ष को लिखे पत्र में वेणुगोपाल ने कहा कि हम सदन की कार्यवाहियों की गरिमा के संरक्षण के लिए तत्काल कार्रवाई का अनुरोध करते हैं । भाजपा के अपने प्रचंड बहुमत का इस्तेमाल करने पर कांग्रेस जन महत्व के मुद्दों को उठाने से नहीं रूकने वाली ।

 

कांग्रेस नेता ने आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान के मामले का जिक्र किया, जिनके खिलाफ संसद के भीतर वीडियो रिकॉर्डिंग करने के मामले में जांच के आदेश दिए गए थे । उन्होंने सदन के नियमों के उल्लंघन और इसकी सुरक्षा को खतरे में डालने के आरोप लगाकर अनुराग के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग की।

वहीं कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव ने भी उक्त अवधि की कार्यवाहियों के असंपादित फुटेज के लिए अनुरोध किया। सुष्मिता ने कहा कि भाजपा सरकार विपक्ष को बार-बार नियम दिखाती रहती है, लेकिन विपक्ष की आवाज के बगैर एक असल लोकतंत्र काम नहीं कर सकता।

Courtesy: nationaldastak.

Categories: India

Related Articles