जदयू नेता अली अनवर बोले- बीजेपी के साथ जाने को मेरा जमीर गवारा नहीं करता

जदयू नेता अली अनवर बोले- बीजेपी के साथ जाने को मेरा जमीर गवारा नहीं करता

पटना। नीतीश कुमार के बीजेपी के साथ जाने के फैसले को लेकर सियासी बहस चर्चाओं में है। वहीं पार्टी के मुस्लिम नेता अली अनवर ने इस फैसले का विरोध किया है। उन्होने कहा है कि मेरा जमीर उनके इस फैसले का समर्थन करने की इजाजत नहीं देता है।

मुख्य बातें-

  1. नीतीश कुमार के इस्तीफे के फैसले का अली अनवर ने किया विरोध
  2. अली अनवर ने कहा- इस कदम का समर्थन करने को मेरा जमीर इजाजत नहीं देता
  3. अली अनवर ने कहा-मुझे मौका मिलता तो पार्टी में अपनी राय रखता

 

समाचार एजेंसी एशिया न्यूज इंटरनेशनल के मुताबिक अली ने कहा कि नीतीश ने अपने आत्मा की आवाज पर बीजेपी के साथ जाने का फैसला किया है लेकिन मेरा जमीर गवारा नहीं करता है। बता दें कि साल 2013 में बीजेपी को लताड़ते हुए नीतीश अलग हुए थे। वहीं बीजेपी के साथ गठबंधन को लेकर समर्थक इसे घर वापसी बता रहे हैं, वहीं विपक्षी दलों के नेता इसे जनादेश के साथ धोखा बता रहे हैं।

उन्होंने कहा कि मेरा जमीर इजाजत नहीं देता है कि मैं उनके इस कदम का समर्थन करूं। अगर मुझे मौका मिलता तो पार्टी में मैं अपनी राय रखता।

वहीं राजद प्रमुख लालू यादव ने इसको लेकर नीतीश कुमार पर सीधा निशाना साधा है। लालू यादव ने कहा भाजपा के साथ जाना जाना पहले से तय हो गया था। उन्होने कहा कि बिहार की जनता से नीतीश कुमार को भाजपा के खिलाफ वोट देकर जिताया था, लेकिन राष्ट्रपति चुनाव में उन्होंने भाजपा का साथ दिया। लालू यादव ने नीतीश पर वादों से मुकरने का आरोप लगाया।

 

भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए लालू यादव ने कहा कि जीरो टॉलरेंस और ईमानदारी की बात करने वाले जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष हत्या के एक मामले में धारा 302 के तहत आरोपी है। उन्होंने नीतीश कुमार पर आरोप लगाते हुए कहा कि भ्रष्टाचार से बड़ा हत्या का मामला होता है और नीतीश कुमार इस मामले में फर्जी दस्तावेज देकर जमानत पर है

Courtesy: nationaldastak.

Categories: India

Related Articles