बहन के सामने दिनदहाड़े छात्रा का गला काटा, सहारनपुर में शिक्षिका का कत्ल

बहन के सामने दिनदहाड़े छात्रा का गला काटा, सहारनपुर में शिक्षिका का कत्ल

बलिया   कानून के राज और पुलिस के इकबाल को खुली चुनौती देते हुए सुबह सरेराह दिनदहाड़े बदमाशों ने एक छात्रा को गला काटकर मौत के घाट उतार दिया। हत्या, उसकी छोटी बहन के सामने की गई। घटना के बाद गांव में तनाव फैल गया है। बांसडीह रोड थाना अंतर्गत बजहां गांव में हुई इस रोंगटे खड़े कर देने वाली घटना में पुलिस ने गांव प्रधान समेत पांच लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। परिजनों का आरोप है कि छात्रा की हत्या छेड़छाड़ का विरोध करने के चलते हुई।
बजहां गांव निवासी जितेंद्र दुबे की 17 वर्षीय पुत्री रागिनी अपनी छोटी बहन सिया के साथ पड़ोस के गांव सलेमपुर स्थित संस्कार भारती स्कूल में पढऩे जा रही थी। इसी बीच गांव के कुछ युवक बाइक से आए और काली मंदिर के पास रागिनी को घेर लिया। इनमें से एक युवक ने उसे पकड़ा और उसका बाल पीछे खींचकर गर्दन पर चाकू से वार कर दिया। इससे रागिनी तड़पने लगी। यह देख हमलावर भाग निकले। इसके बाद छोटी बहन सिया ने रागिनी की गर्दन पर हाथ रखकर खून बंद करने का प्रयास किया मगर नाकाम रही। तभी गांव का ही एक व्यक्ति वहां पहुंचा और गमछे से उसकी गर्दन को बांध दिया। इसके बाद चिल्लाते हुए छोटी बहन सिया घर पहुंची और परिजनों को जानकारी दी। तब तक घटनास्थल पर लोगों की भीड़ जुट गई। रागिनी को अस्पताल पहुंचाया गया लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। दिनदहाड़े हुई घटना से गांव व आसपास तनाव फैल गया। मृतका के परिजनों के अनुसार आरोपी युवक पहले से लड़की को परेशान करता आ रहा था। उन्होंने इसकी शिकायत कई बार आरोपी युवक के ग्राम प्रधान पिता से की थी इसके बाद भी वह मान नहीं रहा था।

बहुत जल्द पकड़ में होंगे
सूचना मिलने पर अपर पुलिस अधीक्षक विजय पाल सिंह, थानाध्यक्ष बृजेश शुक्ला सहित कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची। मृतका के पिता जितेंद्र दुबे की तहरीर पर ग्र्राम प्रधान कृपाशंकर तिवारी उसके पुत्र प्रिंस, भतीजे सोनू सहित दो अन्य नीरज तिवारी व राजू यादव के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। अपर पुलिस अधीक्षक विजय सिंह ने बताया कि पुलिस फरार आरोपियों की तेजी से तलाश कर रही है, दबिश दी जा रही है। तनाव को देखते हुए मौके पर पुलिस बल तैनात किया गया है। कानून के राज में अपराधियों को खुलेआम घूमने नहीं दिया जाएगा। बहुत जल्द पकड़ में होंगे।

सहारनपुर में शिक्षिका का कत्ल

सहारनपुर में शिक्षिका की जंगल में गला दबाकर हत्या कर दी गई। हत्यारों ने तेजाब से चेहरा झुलसा दिया। सहारनपुरके गांव अंबहेटाशेखा निवासी राजेश्वर कश्यप की बेटी पारुल कश्यप (21) गांव के ही  निजी स्कूल में शिक्षिका थी। वह जंगल में गई थी। घंटों बीत जाने के बाद भी घर नहीं पहुंची तो परिजनों ने उसकी तलाश की। इस दौरान एक खेत में पारुल का शव मिला। चेहरे पर तेजाब डाला गया था। मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच-पड़ताल की। एसएसपी बबलू कुमार ने कहा कि पारुल के परिजनों के आरोप की जांच-पड़ताल की जा रही है।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Crime