कैसी रहेगी इस हफ्ते शेयर बाजार की चाल, पढ़िए एक्सपर्ट की राय

कैसी रहेगी इस हफ्ते शेयर बाजार की चाल, पढ़िए एक्सपर्ट की राय

नई दिल्ली, (एजेंसी)। महंगाई के आंकड़े और अमेरिका-उत्तर कोरिया के बीच तनाव की स्थिति से इस सप्ताह बाजार की दिशा तय होगी। विशेषज्ञों ने यह राय जताई। बीते सप्ताह शेल कंपनियों पर सेबी की कार्रवाई और ग्लोबल अनिश्चितता से सहमे निवेशकों ने जमकर बिकवाली की। इसके चलते पिछले पांच कारोबारी सत्रों में बंबई शेयर बाजार (बीएसई) का सेंसेक्स 1111.82 अंक और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 355.60 अंक गिरा।

विशेषज्ञों की राय
जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के रिसर्च हेड विनोद नायर के मुताबिक बाजार नियामक सेबी की सख्ती से घरेलू निवेशकों का भरोसा डगमगाया है। इससे लिक्विडिटी पर असर पड़ेगा। आगे थोक और खुदरा महंगाई के आंकड़ों का भी दलाल स्ट्रीट पर प्रभाव दिखेगा। ग्लोबल स्तर पर चल रही तनातनी पर भी निवेशकों की नजर बनी रहेगी।

जायफिन एडवाइजर्स के चीफ एक्जीक्यूटिव देवेंद्र नेगी का कहना है कि घरेलू संस्थागत निवेशक (डीआइआइ) बाजार में हालिया गिरावट का फायदा उठाना चाहेंगे। ऐसे में बाजार की असल चाल ग्लोबल संकेत ही तय करते दिख रहे हैं।

इस हफ्ते इन कंपनियों के नतीजे
इस हफ्ते सोमवार को कोल इंडिया, आइडीबीआइ और टाटा पावर के नतीजे आने हैं। मंगलवार को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बाजार बंद रहेगा। बीते हफ्ते देश की 10 सबसे मूल्यवान कंपनियों के बाजार पूंजीकरण (एमकैप) में 1,05,357 करोड़ रुपये की गिरावट आई। इनमें रिलायंस इंडस्ट्रीज (आरआइएल) और भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआइ) को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ। आरआइएल का एमकैप 24,671.41 करोड़ रुपये गिरकर 5,02,922.78 करोड़ रहा।

बाजार अगले साल छू लेगा नई ऊंचाई
भारतीय अर्थव्यवस्था अपने विकास के सबसे मजबूत चरण में पहुंचने वाली है। एडलवीस इंवेस्टमेंट रिसर्च ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि बाजार अभी नई ऊंचाइयों पर पहुंचेगा। 2018 में निफ्टी 11500 की ऊंचाई तक जा सकता है। पिछले 10 साल में निफ्टी और सरकारी बांडों से मिलने वाले रिटर्न से स्पष्ट है कि इक्विटी लगातार डेट से ज्यादा आकर्षक बनी हुई है।

Courtesy: Jagran.com

Categories: Finance

Related Articles