दलित महिला को डायन बता खिलाया मल-मूत्र, फिर आंखें फोड़कर की हत्या

दलित महिला को डायन बता खिलाया मल-मूत्र, फिर आंखें फोड़कर की हत्या

जयपुर। कुछ दिनों पहले भाजपा शासित राज्य यूपी के आगरा में एक दलित बूढ़ी महिला को डायन बताकर मार दिया गया था। अब इसके बाद भाजपा शासित राजस्थान से भी ऐसी ही खबर आई है जहां एक दलित महिला को डायन बताकर उसकी नृशंस हत्या कर दी गई। हत्या से भयावह यह है कि उनके मरने से पहले उन्हें कोड़े मारे गए और जबरन मल-मूत्र खिलाकर अंगारों के बिस्तर पर भी लिटाया गया। आखिर में महिला की दोनों आंखें भी अंगारों से फोड़कर उन्हें अंधा कर दिया।

खास बातें-

  1. दलित महिला को डायन बताकर कर दी हत्या
  2. मारने से पहले महिला को कोड़े मारे गए
  3. जबरन मल-मूत्र खिलाकर अंगारों के बिस्तर पर लिटाया
  4. दोनों आंखें फोड़कर अंधा कर दिया गया

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, राजस्थान के अजमेर जिले के कडेरा गांव में 40 वर्षीय दलित महिला कन्या देवी के साथ उनके रिश्तेदारों और पड़ोसियों ने मिलकर ऐसी हरकत की। पुलिस ने बताया कि 2 अगस्त की रात को कन्या देवी अपने 15 वर्षीय बेटे कालू के साथ सो रही थी। रात के लगभग 11 बजे कन्या देवी पर उनके रिश्तेदारों ने हमला कर दिया।

 

अजमेर पुलिस के एसपी राजेंद्र सिंह ने बताया कि महिला को बहुत बुरी तरह प्रताड़ित किया गया। आरोपियों ने महिला को जलाने, मारने, मल खिलाने की बात को कुबूल लिया है। मामले में 6 आरोपी हैं जिनमें से 5 के खिलाफ हत्या और राजस्थान डायन प्रताड़ना निवारम ऐक्ट, 2015 के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपियों में कन्या देवी की भतीजी पिंकी, भतीजा महावीर और पड़ोसी सोनिया का भी नाम है।

इस मामले में सामाजिक कार्यकर्ता तारा आहलूवालिया ने कहा कि आरोपियों ने बताया कि कन्या देवी को भैरो बाबा ने डायन बताकर उसे पीटने के लिए कहा था। आहलूवालिया ने यह कहा कि इस मामले में हत्या की वजह संपत्ति विवाद हो सकता है क्योंकि हाल ही में कन्या देवी के पति की मृत्यु हो गई थी और उसके रिश्तेदारों ने उसकी जमीन कब्जाने के लिए उसकी डायन बताकर हत्या कर दी।

 

8 अगस्त को पुलिस ने कन्या देवी की 23 वर्षीय बेटी माया देवी की शिकायत पर एफआईआर दर्ज की। एफआईआर आईपीसी की धारा 302, 201 और राजस्थान डायन प्रताड़ना निवारम ऐक्ट, 2015 की धारा 3, 4 और 7 के तहत दर्ज की गई है। वहीं इस मामले में गांव की पंचायत ने अरोपियों को अपराध मुक्त होने के लिए उनसे सिर्फ पुष्कर झील में पवित्र स्नान करने और गायों के लिए चारा दान करने को कहा।

Courtesy: nationaldastak.

Categories: Crime