UP के जिन मदरसों में नहीं हुआ जन-गण-मन, वहां लगाया जा सकता है NSA

UP के जिन मदरसों में नहीं हुआ जन-गण-मन, वहां लगाया जा सकता है NSA
लखनऊ.    योगी सरकार के आदेश के बाद स्वतंत्रता दिवस के मौके पर यूपी के कई मदरसों में राष्ट्रगान गाया गया और वीडियोग्राफी की गई। खबर ये भी है कि कुछ जगहों पर ऐसा नहीं किया गया। बताया जा रहा है कि ऐसे मदरसों के खिलाफ सरकार कार्रवाई कर सकती है। बरेली के कमिश्नर के मुताबिक, “जहां राष्ट्रगान नहीं गाए जाने के सबूत मिले हैं, वहां मदरसों से जुड़े लोगों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) लगाया जाएगा।” वीडियोग्राफी को लेकर रहा असहजता का माहौल… 
– रिपोर्ट्स के मुताबिक, सेंट्रल और ईस्ट यूपी के ज्यादातर मदरसों में 15 अगस्त के दिन तिरंगा लहराया गया और राष्ट्रगान गाया गया। हालांकि, इसके वीडियो रिकॉर्ड करने को लेकर राज्य में असहजता का माहौल दिखा।
– बरेली और वेस्ट यूपी के कुछ मदरसों में जन-गण-मन की जगह अल्लामा इकबाल का लिखा ‘सारे जहां से अच्छा’ गाया गया। बता दें, बरेली के काजी मौलाना असजद रजा खान ने पहले ही ऐलान किया था कि राष्ट्रगान ‘गैरइस्लामी’ है, क्योंकि इसमें कुछ ऐसे शब्द हैं जो इस्लाम के खिलाफ हैं।
शिकायत करने वाले से सबूत पेश करने को कहा गया 
– बरेली के डिवीजनल कमिश्नर पीवी जगन मोहन ने कहा, ”हमने शिकायतकर्ताओं से सबूत पेश करने को कहा है, क्योंकि हम नहीं चाहते कि ऐसा लगे कि हम किसी का उत्पीड़न कर रहे हैं।”
– ”अगर जांच में राष्ट्रगान नहीं गाए जाने की बात सामने आती है और मदरसा प्रबंधन लिखित में ये स्वीकार करता है, तो हम उनके खिलाफ केस दर्ज करेंगे।”
– ”अगर पुख्ता सबूत मिले तो हम ऐसे लोगों के खिलाफ प्रिवेंशन ऑफ नेशनल ऑनर एक्ट और नेशनल सिक्युरिटी एक्ट (NSA) के तहत कार्रवाई कर सकते हैं।”
बरेली के मदरसों का ऐसा रहा रिएक्शन
– बरेली में शहर काजी के जमीयत-उर-रजा मदरसे में स्वतंत्रता दिवस की शुरुआत राष्ट्रीय ध्वज को फहराकर हुई। इसके बाद करीब 1 हजार स्टूडेंट्स ने ”हमारा हिंदुस्तान जिंदाबाद” के नारे लगाए और ”सारे जहां से अच्छा” गाया। मदरसे के डिप्टी डायरेक्टर सलमान हसन खान कादरी ने बताया, ”हमने हर साल की तरह ही स्वतंत्रता दिवस मनाया।”
– वहीं, जब अबुल कलाम आजाद मदरसे के मैनेजर इकबाल बेग से राष्ट्रगान नहीं गाए जाने को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, ”हमने हमेशा सारे जहां से अच्छा गाया।”
– ”बहुत सारे लोग हमारे राष्ट्रगान के कुछ शब्दों के अनुवाद के मतलब को समझ नहीं पाते हैं- जैसे ‘भारत भाग्य विधाता’। ये हमारे लिए आपत्तिजनक है। हमारे भाग्य विधाता सिर्फ अल्लाह हैं।”
यूपी सरकार का क्या था आदेश?
– यूपी मदरसा शि‍क्षा परिषद ने 3 जुलाई को राज्य के सभी मदरसों को एक लेटर जारी किया था। लेटर में कहा गया था कि 15 अगस्त को मदरसों में तिरंगा फहराया जाए और राष्ट्रगान भी गाया जाए। हालांकि, ये मामला 11 जुलाई को सामने आया था। ये लेटर सभी जिला अल्पसंख्यक कल्याण अफसरों को भेजा गया।
– लेटर में 15 अगस्त को स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों को श्रद्धांजलि दिए जाने के अलावा इस दिन के महत्व पर प्रकाश डालने, राष्ट्रीय गीतों के प्रोग्राम, शहीदों और स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के बारे में स्टूडेंट्स को जानकारी देने, कल्चरल और स्पोर्ट्स प्रोग्राम कराने की बात कही गई थी।
– लेटर में सभी मदरसा संचालकों को प्रोग्राम की वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी कराने के भी निर्देश दिए गए थे।
क्या है NSA एक्ट?
– NSA के तहत सरकार किसी भी व्यक्ति को जब तक चाहे, तब तक हिरासत में रख सकती है और हिरासत में रखने का कारण बताना भी सरकार के लिए जरूरी नहीं है।
– इसी तरह गैंगस्टर एक्ट में गिरफ्तार व्यक्ति और उसके गिरोह का नाम पुलिस रिकॉर्ड में दर्ज हो जाता है। इस एक्ट के तहत पुलिस आरोपी को आमतौर पर 14 दिन के बजाए 60 दिन के रिमांड पर ले सकती है।
Courtesy: Bhaskar.com
Categories: Politics

Related Articles