चापलूसी की हद! गोरखपुर के सरकारी अस्‍पताल में हरे के जगह बिछवाईं भगवा चादरें

चापलूसी की हद! गोरखपुर के सरकारी अस्‍पताल में हरे के जगह बिछवाईं भगवा चादरें

उत्तर प्रदेश में बीजेपी के सरकार बनने और योगी आदित्य नाथ को मुख्यमंत्री बनाए जाने के बाद से प्रदेश की रुप-रेखा में बदलाव आया है। जहां एक तरफ बीजेपी सरकार सबका साथ सबका विकास की बात करती है, वहीं धर्म के नाम पर हिंसाए हो रही है। प्रदेश में भगवा गमछे डाले बीजेपी के कार्यकर्ताओं को तो आपने गुंडगर्दी करते हुए देखा ही होगा लेकिन आज हम आपको एक ऐसे अस्पताल के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि भगवामय भक्ति में लीन है। हम बात कर रहे हैं गोरखपुर के सहजनवां सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के ईटीसी का है।

इस स्वास्थ्य केंद्र को भगवा रंग इतना पसंद आया है कि यहां पर मरीजों के लिए बने बेड की चादरों का रंग भी भगवा है। भगवा चादरों से स्वास्थ्य सेवाओं का योगी राज में मजाक बनाया जा रहा है। अस्पताल में अक्सर सफेद रंग या हरे की चादर ही देखीं जाती हैं लेकिन इस स्वास्थ्य केंद्र में बिछी भगवा चादर साबित करती हैं कि बीजेपी का सरकारी संस्थानों पर कितना गहरा असर पड़ा हुआ है। यह अस्पताल शायद इन भगवा चादरों को बिछवा कर अच्छी चापलूसी करना चाह रहा है। बीजेपी के प्रदेश में सरकार बनाते ही अफसरों ने भी अपना रंग बदलना शुरु कर दिया और कई सरकारी अधिकारियों के कार्यालयों में भगवा रंग देखने को मिला।

वहीं जब स्वास्थ्य केंद्र में भगवा रंग की चादरों के विषय के बारे में चिकिस्ता अधीक्षक डॉक्टर केपी सिंह से बात की गई तो उनका कहना था कि बेवजह इस मामले को मुद्दा बनाया जा रहा है। स्वास्थ्य प्रमुख सचिव के अचानक ही निरीक्षण पर आने की सूचना मिली थी जिसके बाद बाजार से चादर खरीदी गई थी। बाजार में नारंगी रंग की चादर नहीं मिली तो मजबूरी में भगवा रंग की चादर लाकर बिछाई गई हैं। ऐसा किसी उद्देश्य ने नहीं किया गया है इसलिए इस बात को बेमतलब में आगे न बढ़ाया जाए।

Courtesy: .jansatta.

Categories: Politics

Related Articles