उतराखंड:छात्रसंघ चुनाव में ABVP का सफाया,कांग्रेस समर्थित NSUI की जीत के बाद हंगामा

उतराखंड:छात्रसंघ चुनाव में ABVP का सफाया,कांग्रेस समर्थित NSUI की जीत के बाद हंगामा

एमकेपी पीजी कॉलेज के छात्रसंघ चुनाव में सात साल बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) का सूपड़ा साफ हो गया। कॉलेज में अध्यक्ष सहित सभी पदों पर भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) ने जीत का परचम लहराया है।

वहीं, चुनाव के नतीजे आने के बाद एबीवीपी ने गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। इस दौरान भाजपा के कई नेता भी विरोध करने पहुंचे। शनिवार सुबह एमकेपी कॉलेज में छात्रसंघ चुनाव हुए।

हालांकि, गत वर्षों के मुकाबले इस साल कम वोटिंग हुई। कुल 555 वोट पड़े, जिसमें अलग-अलग पदों पर 15 छात्राओं ने नोटा का बटन दबाया। जैसे ही परिणाम आए तो एबीवीपी ने इस पर विरोध शुरू कर दिया।

एबीवीपी के संगठन मंत्री के अलावा डीएवी कॉलेज के छात्रसंघ अध्यक्ष राहुल कुमार भी जबर्दस्ती कॉलेज में घुस गए। एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी और हंगामा किया। देर रात तक एबीवीपी की कार्यकर्ता दोबारा मतगणना की मांग पर अड़ी रहीं। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया।

इस बीच देर शाम भाजपा नेता उमेश अग्रवाल, एबीवीपी के वरिष्ठ नेता रामविनय सिंह, डॉ. कुंवर कौशल कुमार, संकेत नौटियाल, सिद्धार्थ सहित तमाम नेता कॉलेज पहुंच गए। हालांकि, पुलिस ने उन्हें अंदर नहीं घुसने दिया।

एबीवीपी कार्यकर्ता एवं कॉलेज की पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष साक्षी शंकर ने चुनाव में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी का आरोप लगाया। छात्राओं ने लिखित में दोबारा मतगणना कराने का आवेदन किया। हालांकि, कॉलेज प्रशासन ने देर रात तक इस पर कोई फैसला नहीं लिया था।

Courtesy: headline24

Categories: India

Related Articles