पीयूष गोयल ने रूस की सड़क को भारत की बताकर कर डाली केंद्र सरकार की तारीफ

पीयूष गोयल ने रूस की सड़क को भारत की बताकर कर डाली केंद्र सरकार की तारीफ

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल की इन दिनों सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर जमकर खिंचाई हो रही है। दरअसल केंद्रीय मंत्री गोयल ने रविवार को एक तस्वीर शेयर की जिसमें उन्होने लिखा कि केंद्र की सरकार की बदौलत हम भारती सड़कों को जगमगाने में सफल हो पाए हैं।

इस ट्वीर पर लोगों ने इस पर कमेंट करना शुरू कर दिया कि जिस तस्वीर का इस्तेमाल किया वो भारत की नहीं रूस की है। धीरे-धीरे सोशल मीडिया पर उस तस्वीर के वायरल होने के बाद उसकी हकीकत जब सामने आई तो मंत्रालय ने वह तस्वीर हटा ली।

पीयूष गोयल ने रूस की इस तस्वीर को भारत का बताकर अपने ट्वीट में लिखा- सरकार ने 50 हजार किलोमीटर की सड़को को 30 लाख एलईडी लाइट्स से चमकाने का काम कर दिखाया है। जिसे जॉय दास नाम के एक यूजर ने पकड़ लिया कि ये तस्वीर रूस की है। जॉय दास ने इस तस्वीर की सच्चाई बताते हुए लिखा कि कनाडा में एलईडी लाइट रिप्लेस करने के बाद अब भाजपा ने रूस की लाइट्स भी रिप्लेस कर दीं।

जॉय दास के इस ट्वीट को लगभग 2500 से ज्यादा यूजर्स ने रिट्वीट किया। फेक तस्वीर के इस्तेमाल की खबर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल तक भी पहुंची। तब पीयूष गोयल ने अपनी गलती मानते हुए उन्हें तस्वीर की सच्चाई बताने वाले का धन्यवाद किया। गोयल ने ट्वीट किया कि जिस तरह से हम सड़को को रोशन कर रहे हैं उसी तरह सोशल मीडिया तथ्यों को उजागर कर हमें रोशनी दे रहा है।

गौरतलब है कि अभी कुछ समय पहले केंद्रीय गृह मंत्रालय की वेबसाइट पर अमेरिका-मेक्सिको बॉर्डर की तस्वीर को भारत-चीन का बताया गया था। जिसके बाद सोशल मीडिया पर लोगों ने सरकार को घेरा था।

 

Courtesy: nationaldastak.
Categories: India

Related Articles